दोस्त
डॉ अ कीर्तिवर्धन, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।
दोस्त वही जो कभी, बदला नहीं करते,  
जान बुझ गिरने वाले, संभला नहीं करते। 
कष्टों का क्या, जीवन में आते जाते रहते हैं, 
दोस्त कष्टों में भी, दोस्त से गिला नहीं करते।   
विद्या लक्ष्मी निकेतन 53 -महालक्ष्मी एन्क्लेव, मुज़फ्फरनगर, उत्तर प्रदेश