प्रदूषण फैलाने के आरोप में जनपद की तीन इण्डस्ट्री सील

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। हिण्डन नदी को प्रदूषणमुक्त किये जाने के सम्बन्ध में आयुक्त एवं जिलाधिकारी के निर्देश पर प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा रात्रि में भी उद्योगों एवं नालों का निरीक्षण व सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसी क्रम में रात्रि में भ्रमण के दौरान भोपा रोड स्थित मै0 टिहरी पल्प एण्ड पेपर मिल्स लि0 से जनित अशुद्धिकृत उत्प्रवाह को धन्धेडा-बेगराजपुर नाले में निस्तारित किया जाता पाया गया। औद्योगिक क्षेत्र बेगराजपुर स्थित उद्योग मै0 मैग्मा इण्डस्ट्रीज लि0 द्वारा भी अशुद्धिकृत उत्प्रवाह को नाले में निस्तारित किया जाता पाया गया। इस स्थिति में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अंकित सिंह की इमरजेन्सी क्लोजर की संस्तुति के आधार पर बोर्ड मुख्यालय द्वारा उक्त दोनों उद्योग के विरूद्ध बन्दी आदेश जारी कर दिये गये थे, जिसके अनुपालन में आज दोनों उद्योगों की उत्पादन प्रक्रिया को सील कर दिया गया।

प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी अंकित सिंह ने सभी जल प्रदूषणकारी उद्योगों को निर्देशित किया है कि यदि कोई भी उद्योग बाईपास करते हुए अशुद्धिकृत उत्प्रवाह को नदी या नाले में निस्तारित करते हुए पाया जाता है तो उसके विरूद्ध बिना किसी पूर्व सूचना के तत्काल बन्दी की कार्यवाही की जायेगी। क्षेत्रीय अधिकारी द्वारा सभी वायु प्रदूषणकारी उद्योगों को सचेत करते हुए कहा है कि यदि कोई भी उद्योग  निर्देशों का उल्लंघन कर गैर प्रमाणिक ईंधन का प्रयोग करते हुए या अत्यधिक टपेपइसम म्उपेेपवद करते हुए अथवा अवैधानिक रूप से उद्योग का संचालन करते हुए पाया जाता है तो बिना किसी पूर्व सूचना के सम्बन्धित उद्योगों के विरूद्ध बन्दी की कार्यवाही कर दी जायेगी। क्षेत्रीय अधिकारी ने यह भी कहा है कि समस्त उद्योगों को राज्य बोर्ड से निर्गत सहमति में आयोग के निर्देशानुसार प्रमाणिक ईंधन को संशोधित कराया जाना आवश्यक है।

बता दें कि जनपद एनसीआर क्षेत्रान्तर्गत है, जिसके चलते यहां ग्रेडेड रेस्पोन्स एक्शन प्लान प्रभावी है। इसी क्रम में वायु प्रदूषणकारी उद्योगों के निरीक्षण किये जा रहे हैं। इसी क्रम में मै0 सम्यम् इण्डस्ट्रीज, मै0 सुमन इण्डस्ट्रीज एवं मै0 गुरदेव इंजीनियरिंग एण्ड इण्डस्ट्रीज लि0 के खिलाफ बन्दी आदेशों के अनुपालन में प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय कार्यालय की टीम द्वारा तीनों उद्योगों को सील कर दिया गया है।