नेहरू युवा केंद्र के तत्वाधान में जन जागरुकता शिविर आयोजित

मुकेश कुमार ऋषि वर्मा, भिवानी। नेहरू युवा केंद्र जन जागरुकता शिविर लगाया गया। शिविर में उपस्थित छात्र-छात्राओं, स्टाफ सदस्यों को सम्बोधित करते हुए डॉ. नरेश सिहाग एडवोकेट ने कहा कि वर्तमान समय की मांग शिक्षा के साथ-साथ स्वरोजगार भी है। स्वरोजगार के माध्यम से न केवल स्वयं का विकास होता है, बल्कि दूसरों को भी रोजगार देकर देश और समाज की सेवा भी की जा सकती है। इसलिए युवा ज्यादा से ज्यादा स्वरोजगार पर ध्यान दें ताकि देश की उन्नति और समाज के नवनिर्माण में उनकी भागेदारी सुनिश्चित हो सके।

राजकुमार कोठारी ने नेशनल ह्युमन ट्रैफिकिंग अवेयरनेस डे के बारे में विस्तार से जानकारी दी। भारत सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में तथा भरण-पोषण अधिनियम, घरेलू हिंसा, मोटरयान अधिनियम, मौलिक अधिकार एवं मौलिक कर्तव्य एवं अन्य कानूनों के बारे में उपस्थित जनसमूह को विस्तार से विधिक जानकारी प्रदान कर उन्हें जागरूक किया गया।  
हरबंस कौर ने घरेलू हिंसा अधिनियम व सरकारी जनकल्याण योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान आपदा पीडि़त, सडक दुर्घटना, बाल श्रम, बाल विवाह, घरेलू हिंसा, ठेका मजदूरी, वन स्टॉप सेंटर, आश्रय सुविधा, आपातकालीन सहायता, परामर्श, स्वास्थ्य सेवा, पुलिस सहायता आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। प्राथमिक चिकित्सा के बारे में संजय कामरा ने विस्तारपूर्वक जानकारी दी। नेहरू युवा केन्द्र के अध्यक्ष ने रोहित यादव ने उपस्थित वक्ताओं को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया और धन्यवाद ज्ञापित किया।