निगम के पांच साल के कार्यकाल में बडा हिस्सा विकास और सुविधाओं से रह गया वंचित

गौरव सिंघल, सहारनपुर। नगर निगम का पांच साल का कार्यकाल पूरा हो गया है, लेकिन इस दौरान निगम क्षेत्र में शामिल 32 गांवों और बाहरी कालोनियां विकास से पूरी तरह महरूम रह गई। निगम ने इन क्षेत्रों में कुछ स्थानों पर हाईमास्ट लाइट और गलियों में खंबों पर एलईडी लाइट लगवाई है, लेकिन पानी की निकासी के प्रबंध बेहतर न किए जाने से वहां जल भराव की समस्या बनी हुई है। मुख्य मार्ग और गलियों की सडकें कच्ची है और नालियां नहीं होने से बिना बारिश के भी जल भराव रहता है। 

सहारनपुर नगर स्मार्ट सिटी योजना में भी शामिल है। इस योजना में निगम क्षेत्र के 32 गांव एवं बाहरी कालोनियां शामिल नहीं है। पुराने शहर के 21 वार्ड और वहां की कालोनियां जरूर शामिल है। वहां सीवर लाइन सडक, नाली, पीने के पानी, स्ट्रीट लाइट की सुविधाएं मुहैया कराई जाएगी। स्मार्ट सिटी योजना के तहत 23 किमी सडक निर्माण, पार्कों का सौंद्रीयकरण, सीवर लाइन डालने का काम, यातायात व्यवस्था और सिग्नल आदि लगाना, कूडाघरों की समाप्ति, स्र्पोटस स्टेडियम में खेल सुविधा मुहैया कराना जैसे कार्य जारी है। इस वर्ष जौलाई-अगस्त तक सभी कार्य पूरे होने की उम्मीद है।