25 हजार का इनामी 14 साल बाद गिरफ्तार

गौरव सिंघल, सहारनपुर। सिटी कोतवाली पुलिस ने स्वर्ण आभूषण बनाने वाले पश्चिमी बंगाल के मूल निवासी कारीगर पुर्नसांवत को महाराष्ट्र के मुंबई के जिला पालघर से वहां की पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार किया है। पुर्नसांवत करीब 14 साल से फरार था। पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर पहले पांच हजार रूपए और फिर 25 हजार रूपए का इनाम घोषित किया था। 

एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक ने आज पुलिस लाइन सभागार में पत्रकारों को बताया कि पुर्नसांवत नगर कोतवाली के कक्कड़गंज इलाके में सोने के आभूषण बनाने का काम किया करता था। उन्होंने बताया कि वर्ष 2009 के सितंबर माह में नगर कोतवाली के कबाड़ी बाजार कक्कड़गंज निवासी संजय जैन पुत्र गणपतराय जैन ने सोने के जेवर बनाने को दिए थे, लेकिन पुर्नसांवत ने जेवर बनाकर नहीं दिए और वह यहां से संजय जैन समेत अनेक लोगों का करीब 100-125 ग्राम सोना लेकर फरार हो गया था। उन्होंने बताया कि 18 सितंबर  2009 को संजय जैन ने पुर्नसांवत के खिलाफ नगर कोतवाली में धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था। उन्होंने बताया कि पुलिस ने 8 अप्रैल 2010 को कोर्ट में उसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल कर दी थी। पुर्नसांवत अपने खिलाफ रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से ही फरार हो गया था। कोर्ट ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट प्राप्त कर उसकी गिरफ्तारी को दबिश दी, लेकिन वह लगातार अपनी लोकेशन बदले जाने के कारण गिरफ्तार नहीं हो सका। 

उन्होंने बताया कि पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी पर शुरू में रखे गए पांच हजार के इनाम को बाद में 25 हजार कर दिया। एसपी सिटी ने बताया कि इस मामले की तफ्तीश के दौरान यह बात सामने आई कि पुर्नसांवत ने संजय जैन के साथ-साथ आभूषण बनाने के लिए सोना लिया था और किसी को भी आभूषण बनाकर नहीं दिए थे। उन्होंने बताया कि अब सहारनपुर नगर पुलिस ने एक बार फिर से उसकी गिरफ्तारी के प्रयास किए और उसकी लोकेशन पश्चिमी बंगाल के जिला हुबली थाना खनाकुल गांव नातिबपुर में मिली थी। उन्होंने बताया कि सहारनपुर नगर पुलिस का एक दल उक्त पते पर पहुंचा, लेकिन पुलिस के आने की भनक मिलते ही वह वहां से फरार हो गया।

उन्होंने बताया कि गोपनीय रूप से पुलिस को जानकारी मिली कि वह महाराष्ट्र भाग गया हैं। पुलिस ने उसकी लोकेशन मालूम की और हवाई जहाज से तत्काल महाराष्ट्र पहुंची। सहारनपुर के पुलिस दल ने महाराष्ट्र के जिला पालघर के थाना वालिव के सहयोग से पुर्नसांवत को 10 जनवरी को गिरफ्तार कर लिया। वसई जिला पालघर की कोर्ट से ट्रांजिट रिमांड लेकर सहारनपुर पुलिस पुर्नसांवत को लेकर आज 12 जनवरी को सहारनपुर पहुंची, जहां से आज उसे सहारनपुर न्यायालय में पेश किया जा रहा है। 

एसपी सिटी ने बताया कि एक पखवाड़े के दौरान सहारनपुर जिला पुलिस ने करीब 20 इनामी लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। उन्होंने कहा कि पुलिस किसी भी सूरत में अपराधियों को गिरफ्तार करेगी। 10-10 15-15 साल से फरार अपराधियों की गिरफ्तारी से बदमाशों यह भय बना है कि वह अपराध करते हैं तो फिर जेल जाने से नहीं बच पाएंगे।