मण्डलायुक्त ने हिण्डन नदी को स्वच्छ एवं अविरल बनाने के लिए औद्योगिक इकाईयों का निरीक्षण किया

गौरव सिंघल, सहारनपुर। मण्डलायुक्त लोकेश एम0 द्वारा हिण्डन नदी को स्वच्छ एवं अविरल बनाने के दृष्टिगत औद्योगिक इकाईयों के ई0टी0पी0 प्लान्ट का निरीक्षण किया गया। इस क्रम में उन्होने मै0 गर्ग डाईंग, कामधेनू कॉम्पलैक्स, मै0 सुपर टैक्सटाईल्स, गणपति टैक्सटाईल्स, टिपरपुर जनता रोड का निरीक्षण किया। 

निरीक्षण के दौरान मै0 गर्ग डाईंग की इकाई संचालित पायी गयी, किन्तु ईटीपी प्लान्ट पूर्णतः बंद पाया गया, सुपर टैक्सटाईल्स का ईटीपी भी निष्प्रयोज्य अवस्था में पाया गया। इस इकाई के समीप अशुद्ध उत्प्रवाह ढमोला नदी में गिरता पाया गया, जोकि सुपर टैक्सटाईल्स का ही प्रतीत हुआ, क्योंकि इस इकाई के समीप स्थापित दो इकाईयों में उत्पादन कार्य बंद पाया गया। गणपति टैक्सटाईल्स में उत्पादन बंद पाया गया तथा ईटीपी की मरम्मत होते पायी गयी। 

गर्ग डाईंग एवं मै0 सुपर टैक्सटाईल्स की कार्यप्रणाली के संबंध में मण्डलायुक्त ने कडी नाराजगी व्यक्त की एवं प्रदूषण विभाग के अधिकारियों को तत्काल इन इकाईयों को सील करने की कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने अन्य औद्योगिक इकाईयों को भी सचेत किया कि वें अपना ईटीपी क्रियाशील रखें, अन्यथा उनके विरूद्ध भी कार्यवाही की जायेगी। 

बता दें कि मण्डलायुक्त ने हिण्डन नदी को स्वच्छ एवं अविरल बनाने हेतु औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों व विभिन्न अधिकारियों के साथ बैठक कर निर्देश दिये थे कि सभी उद्यमी अपनी-अपनी औद्योगिक इकाईयों के ईटीपी को पूर्णतः क्रियाशील कर लिया जाये, जिससे हिण्डन नदी में दूषित जल का उत्प्रवाह न होने पाये। उन्होंने निर्देश दिये कि 15 दिन के बाद स्वयं औद्योगिक इकाईयों का निरीक्षण किया जायेगा और यह देखा जायेगा कि उनके ईटीपी सुचारू रूप से कार्य कर रहे है अथवा नहीं। निरीक्षण के समय अपर आयुक्त प्रशासन डीपी सिंह एवं प्रदूषण विभाग के अधिकारी मुख्य रूप से मौजूद रहे।