रिश्ता



डॉ. अ. कीर्तिवर्धन, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र। 

कितना भी कीमती हो हीरा, 
पत्थर ही रहेगा,
संवेदनाओं से दूर परिवार में, 
कलह ही करेगा
बेहतर है रिश्तों को परखें, 
मानवता की कसौटी,
टूट भी जायेगा अगर, 
रिश्ता जहर तो न बनेगा
विद्यालक्ष्मी निकेतन, 53-महालक्ष्मी एन्क्लेव, मुज़फ्फरनगर उत्तर प्रदेश