अवसान

अ कीर्ति वर्द्धन, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

निर्माण के लिये अवसान का होना जरूरी है,
सुबह के लिये शाम का होना जरूरी है।
हार ही तो जीत की पहली सीढी है,
जीत के लिये हार का होना जरूरी है।

मिल जाये अगर जीत बिना संघर्ष जान लो,
जीत का मजा फीका लगे यह भी मान लो।
मुश्किल नही कोई काम इस जहान में,
चाँद से आगे मुक़ाम, गर दिल में ठान लो।
मुजफ्फरनगर उत्तर प्रदेश