कामरेड सुरेन्द्र कुमार जैन की पुण्य तिथि पर श्री कुन्द कुन्द जैन पीजी कॉलेज में रक्तदान शिविर आयोजित

शि.वा.ब्यूरो, खतौली। गत वर्षों की भाँति इस वर्ष भी श्री कुन्दकुन्द जैन इण्टर कॉलेज के तत्वावधान में पूर्व बैंकिंग ट्रेड यूनियन लीडर एवं नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष रहे स्व० कामरेड सुरेन्द्र कुमार जैन की पुण्य तिथि के अवसर पर आज श्री कुन्द कुन्द जैन पीजी कॉलेज में एक विशाल रक्तदान शिविर आयोजित हुआ।

कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालय प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष योगेश चन्द्र जैन सर्राफ ने की। शिविर का उद्घाटन पूर्व विधायक एवं प्रमुख समाज सेवी सोमांश प्रकाश ने किया। उन्होने कहा कि कामरेड सुरेन्द्र कुमार जैन ने अपना जीवन मानव सेवा के लिये समर्पित कर रखा था, उन्होने सदा दूसरों की सेवा को प्राथमिकता दी उन्होंने कहा कि उनकी पुण्यतिथि पर रक्तदान शिविर आयोजित करना एक सार्थक कार्य है। 

बतौर मुख्य अतिथि पारस चैनल के एमडी पंकज जैन ने कहा कि रक्तदान जीवन का सर्वश्रेष्ठ कार्य है उन्होंने कहा कि इसके द्वारा रक्तदाता तीन व्यक्तियों के जीवन का बचाव करता है। जिला सहकारी बैंक मुजफ्फरनगर के संचालक मुकेश कुमार जैन, विशिष्ट अतिथि श्री कुन्द कुन्द जैन एजूकेशन एसोसिएशन खतौली के अध्यक्ष संजय जैन, श्री कुन्द कुन्द जैन एजूकेशन एसोसिएशन के महामन्त्री दीपक कुमार जैन, एसडीएम जीत सिंह राय व बैकिंग ट्रेड यूनियन लीडर आरपी शर्मा एवं मंचासीन अतिथियों के द्वारा दीप प्रज्जवलन कर स्व० कामरेड सुरेन्द्र कुमार जैन के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

कार्यक्रम की शुरुआत मंगलाचरण द्वारा की गयी विद्यालय प्रबन्धक राजीव जैन व कार्यवाहक प्रबन्धक मुकेश कुमार जैन ने अतिथियों का माल्यार्पण किया एवं स्मृति चिन्ह भेट कर सम्मानित किया मंच संचालन कार्यक्रम संयोजक डा० अमित कुमार जैन ने किया। प्रधानाचार्य अनुराग जैन ने सभी आगन्तुकों एवं विद्यालय परिवार का आभार प्रकट किया गया। 

कार्यक्रम में अतुल प्रताप सिंह एवं 72 यूपी एनसीसी बटालियन के कैडेट्स का विशेष योगदान रहा। शिविर में 300 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया। इस अवसर पर मनोज जैन आढती, मुनेश जैन,नमन जैन, जगदीश भाटिया, धनेश जैन, तेजराज जी, रविन्द्र जैन, नितिन जैन, शशांक जैन, सजंय सर्राफ, वैभव जैन, हितेश सर्राफ, सुनील ठेकेदार, प्रदीप जैन टीकरी पवन सर्राफ, डा० विकास जैन,, आशु जैन, पुलकित जैन विनेश जैन नावला, शिवकुमार यादव आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।