खुशहाल परिवार दिवस पर परिवार नियोजन के लिए दंपति को किया प्रोत्साहित

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जनपद में स्वास्थ्य केन्द्रों पर खुशहाल परिवार दिवस का आयोजन किया गया। इस अवसर पर दंपति को परिवार नियोजन के लाभ और परिवार नियोजन के विभिन्न साधनों के बारे में जानकारी दी गयी। जनपद के हर स्वास्थ्य केन्द्र पर अंतरा गर्भनिरोधक इंजेक्शन, छाया गोली, कंडोम एवं परिवार नियोजन के अन्य साधन उपलब्ध रहे और उसके बारे में लाभार्थियों को विस्तार से बताया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने बताया कि शासन से मिले निर्देशों के मुताबिक इस आयोजन का उद्देश्य हाई रिस्क प्रेगनेंसी, एक वर्ष के दौरान शादी करने वाले दंपति और तीन या उससे अधिक बच्चों वाले दंपति को परिवार नियोजन के बारे में जानकारी देना और उनकी इच्छा के मुताबिक जरूरी साधन उपलब्ध कराना है। उन्होंने बताया कि खुशहाल परिवार दिवस के आयोजन का प्रमुख उद्देश्य समुदाय में परिवार नियोजन की जागरूकता तथा स्वीकार्यता बढ़ाना है। उन्होंने कहा कि परिवार नियोजन से मातृ एवं शिशु रुग्णता एवं मृत्यु दर को कम किया जा सकता है।


परिवार नियोजन की नोडल अधिकारी डॉ. दिव्या वर्मा ने बताया कि खुशहाल परिवार दिवस में शामिल होने के लिए तीन समूहों को प्रोत्साहित किया गया है। उन्होंने कहा कि पहले समूह में हाई रिस्क प्रेगनेंसी (एचआरपी) वाली महिलाएं और ऐसी महिलाएं जिनका प्रसव एक जनवरी, 2020 के बाद हुआ है। उन्होंने कहा कि दूसरे लक्षित समूह में एक जनवरी, 2020 के बाद विवाहित दंपति और तीसरे समूह में ऐसे योग्य दंपति को शामिल किया गया है, जिनके तीन या तीन से अधिक बच्चे हैं। उन्होंने कहा कि सभी योग्य दंपति चिकित्सक के परामर्श के अनुसार परिवार नियोजन के साधनों का प्रयोग करेंगे तो उनका जीवन स्वस्थ और सुखमय बना रहेगा।
जिला परिवार कल्याण एवं लॉजिस्टिक्स प्रबंधक डॉ दिव्यांक दत्त ने बताया कि खुशहाल परिवार दिवस के अवसर पर महिलाओं के लिए गर्भनिरोधक इंजेक्शन अंतरा व छाया एवं आईयूसीडी और पीपीआईयूसीडी की सुविधा निःशुल्क मुहैया कराई गई। उन्होंने कहा कि जिनका परिवार पूरा हो चुका है, उन दंपति को परिवार नियोजन के स्थाई साधन (नसबंदी) अपनाने की सलाह दी गई।