आमरण अनशन पर बैठे जूना अखाड़ा के महंत स्वामी मंगलगिरी से हिन्दू जागरण मंच के ठाकुर सुरेंद्रपाल ने की मुलाकात, स्वास्थ की जानकारी ली

गौरव सिंघल, देवबंद। बीती 16 अगस्त से आमरण अनशन पर बैठे जूना अखाड़ा के महंत स्वामी मंगलगिरी पर शासन-प्रशासन की ओर से कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। हिन्दू जागरण मंच के ठाकुर सुरेंद्रपाल सिंह ने आज अनशन स्थल पर पहुंचकर स्वामी जी से मुलाकात कर उनके स्वास्थ की जानकारी ली। 
बता दें कि नदियों के जल को प्रदूषित होने से बचाने के लिए और गांव जडौदाजट्ट में रेलवे हाल्ट बनाने को लेकर जड़ौदा गांव में शाकंभरी मंदिर के पास जूना अखाड़ा के महंत स्वामी मंगलगिरी बीते 16 अगस्त से आमरण अनशन पर बैठे है। 
हिन्दू जागरण मंच के ठाकुर सुरेंद्र पाल सिंह एडवोकेट ने अनशन स्थल पर पहुंचकर उनसे मुलाकात की और उनके स्वास्थ की जानकारी ली। इस दौरान ठाकुर सुरेंद्र पाल सिंह ने कहा कि सरकार को संतों की मांग को गंभीरता से लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस तरह के अनशन और आमरण अनशन पर शासन-प्रशासन की ओर से ध्यान ना दिया जाना ठीक नहीं है, इसके गंभीर परिणाम हो सकते है। उन्होंने कहा कि संतो द्वारा उठाए जाने वाले सामाजिक मुद्दों को गंभीरता से लेना चाहिए कई बार संतो के अनशन और आमरण अनशन पर ध्यान ना देने के कारण बड़ी हानि हो चुकी है। उन्होंने कहा कि स्वामी मंगलगिरी 16 अगस्त से आमरण अनशन पर है लेकिन शासन प्रशासन द्वारा उनकी अनदेखी की जा रही है जो उचित नहीं है। उन्होंने मांग की है कि स्वामी के अनशन की ओर तत्काल तवज्जो दी जाए और उनकी मांगों को पूरा किया जाए।