स्टेट हाईवे पर हुए भीषण हादसे में मृतकों की संख्या पांच हुई

गौरव सिंघल, देवबंद। स्टेट हाईवे पर सोमवार की शाम हुए भीषण हादसे में एक महिला की और मौत हो जाने से मृतकों की संख्या अब पांच हो गई है। जिसमें युवती समेत चार महिलाएं शामिल हैं। सोमवार को कार चालक और नर्सिंग की छात्रा सहित चार की मौत हुई थी। एक 50 वर्षीय महिला सतपाली पत्नी झगडू ने भी अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। दिल दहला देने वाली इस घटना पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी दुख प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने मरने वालों के परिवारों से हमदर्दी जताई है साथ ही डॉक्टरों को घायलों का बेहतर इलाज करने का निर्देश दिया है। मंगलवार को गमगीन माहौल में गांव सुनहेटी में तीनों महिलाओं का अंतिम संस्कार कर दिया गया, जबकि छात्रा शिवानी त्यागी पुुत्री सत्येंद्र त्यागी का गांव रणसुरा में अंतिम संस्कार किया गया। 

गांव सुनहेटी में जब एक साथ तीन महिलाओं के शव पहुंचे तो गांव में मातम छा गया। अंतिम संस्कार के दौरान काफी संख्या में कई दलों के नेता, प्रशासनिक अधिकारी, जनप्रतिनिधि और सामाजिक कार्यकर्ता पहुंचे। गांव में पूरे दिन मातम पसरा रहा और कोई चूल्हा नहीं जला। 

बता दें कि देवबंद कोतवाली क्षेत्र के चंदपुर सुनेहटी गांव निवासी अनुसूचित जाति के दो दर्जन के क़रीब लोग ट्रैक्टर ट्राली से जनपद मुजफ्फरनगर के खेड़ी पचेंडा गांव में तेहरवीं में शामिल होने गए थे। सोमवार की देर शाम वह वापस लौट रहे थे। जब वह स्टेट हाईवे-59 पर घलौली पुलिस चेक पोस्ट के समीप पहुंचे तो पीछे से आई तेज गति ब्रेजा कार ने ट्राली में टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि कार और ट्राली के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। पुलिस ने लोगों की मद्द से घायलों को सरकारी अस्पताल भिजवाया था। सीओ देवबंद रामकरण सिंह ने बताया कि गमगीन माहौल में गांव सुनहेटी में तीन महिलाओं का अंतिम संस्कार कर  दिया गया है।