आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के संबंध में राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक आयोजित
शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। आगामी विधान सभा सामान्य निर्वाचन-2022 के दृष्टिगत मतदेय स्थलों के सम्भाजन हेतु जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह के अध्यक्षता में लोक वाणी सभागार राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।
बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि कोविड-19 महामारी के दृष्टिगत भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतदेय स्थलों का सम्भाजन 1200 मतदाताओं के आधार पर करने के निर्देश दिये गये हैं, जिसके के क्रम में मतदेय स्थलों का सम्भाजन हेतु समय सारणी निर्धारित की गयी है। उन्होंने बताया कि मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलो के जिलाध्यक्षो, सचिव व प्रतिनिधियो के साथ बैठक आयोजन के पश्चात् शिकायतों एवं सुझावों के निस्तारण के बाद सूची को अंतिम रुप दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि 15 सितम्बर को कण्ट्रोल टेबल की ऐन्ट्री की जायेगी तथा 17 सितंबर को विधानसभा क्षेत्रवार सभी संलग्नकों सहित मतदेय स्थलों की सूची को जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराया जायेगा।
जिलाधिकारी ने बताया कि आयोग के निर्देशानुसार जिन बूथों पर 1200 से अधिक मतदाता हैं, उन पर नया बूथ बनाया जाना है। इस प्रकार जनपद में 1200 से अधिक मतदाताओं वाले बूथ का सम्भाजन करने के पश्चात 84 नये बूथों का निर्माण किया गया है। उन्होंने बताया कि जनपद में इस प्रकार 06 नये मतदान केन्द्र भी बनाये गये हैं। 11-बुढ़ाना विधानसभा क्षेत्र में 33 मतदेय स्थल, 12- चरथावल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में मतदेय स्थल, 13-पुरकाजी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में मतदेय स्थल, 14-मुजफ्फरनगर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 12 मतदेय स्थल, 15-खतौली विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 21 मतदेय स्थल, 16- मीरापुर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 7 मतदेय स्थल नये बनाये गये हैं। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त 12- चरथावल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 01 मतदान केन्द्र, 13- पुरकाजी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 01 मतदान केन्द्र, 14-मुजफ्फरनगर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र 03 मतदान केन्द्र, 16-मीरापुर में 01 मतदान केन्द्र नये बनाये गये हैं। उन्होंने बताया कि  जनपद में अब मतदान केन्द्रों की संख्या 914 जो नये मतदान केन्द्रों के बाद 920 हो जायेगी।
जिलाधिकारी ने बताया कि इन नये मतदान केन्द्र एवं मतदेय स्थलों की सूची सभी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को उपलब्ध कराते हुए आपत्तियां प्राप्त कर ली गयी हैं, जो शीघ्र ही निर्वाचन आयोग को प्रेषित दी जायेगी। उन्होंने बताया कि अब पहचान पत्रों को रजिस्टरी डाक से मतदाताओं को उनके पते पर उपलब्ध कराने की कार्यवाही की जा रही है। जनपद को अगस्त माह में आयोग से 9433 पहचान पत्र प्राप्त हुए थे जिनमें से 2200 पहचान पत्रों की रजिस्ट्री कराकर मतदाताओं के पते पर भेज दिया गया है। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से मतदाता सूची में परिवर्धन अपमाजन तथा संशोधन करने में अपना पूर्ण सहयोग देने का आहवान किया।