जनपद में PICU के लिए चिकित्सा अधिकारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम का जिलाधिकारी ने किया शुभारंभ
मुजफ्फरनगर। जनपद के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा कोरोना की संभावित तीसरी लहर के दृष्टिगत अपनी तैयारियां पूरी करने में एकजुट होकर लगा है इसी कड़ी में आज (पीडियाट्रिक इंटेंसिव केयर यूनिट) PICUके लिए चिकित्सा अधिकारियों एवं स्वास्थ्य कर्मियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे द्वारा किया गया। इस अवसर पर संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए आवश्यक है कि हम अभी से पूरी सजगता के साथ अपनी तैयारी पूरी करें उन्होंने सभी प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि वह अपने पूर्ण मनोयोग के साथ अपने प्रशिक्षण कार्य को पूर्ण करें।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 महावीर सिंह फौजदार ने बताया कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर बच्चों के लिए हानिकारक हो सकती है इसलिए जनपद स्तर पर PICU (पीडियाट्रिक इंटेंसिव केयर यूनिट) जिला महिला चिकित्सालय में तैयार किया गया है। जिसके लिए जिला क्षयरोग अधिकारी एवं वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डाॅक्टर लोकेश चंद्र गुप्ता के द्वारा बाल रोग विशेषज्ञों, चिकित्सा अधिकारियों,तथा स्टाफ नर्स आदि को प्रशिक्षण दिया गया डाॅक्टर लोकेश गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में सभी को वेंटिलेटर, बाइपैप, सीपैप व आॅक्सीजन के प्रयोग आदि के संबंध में विस्तार से जानकारी देकर तथा सभी उपकरणों का उपयोग करने का तरीका सभी को सिखाया गया। उन्होंने बताया कि इस प्रशिक्षण कार्यक्रम की माॅनिटरिंग कर रहे अपर निदेशक बरेली मंडल डाॅक्टर एसपी अग्रवाल द्वारा भी प्रशिक्षण कार्यक्रम की गुणवत्ता को लेकर प्रशंसा की गई है डा0 गुप्ता ने बताया कि अभी जिला एवं ब्लाॅक स्तर पर भी इस तरह ही अन्य प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। आज के प्रशिक्षण कार्यक्रम में बाल रोग विशेषज्ञ डाॅक्टर मुकेश उपाध्याय, डाॅक्टर गरिमा जैन, डाॅक्टर सागर डाॅक्टर परितोष, डाॅक्टर मोहित सैनी,रश्मि जलाल एवं दीपा चैधरी आदि उपस्थित रहे।