लक्ष्मी धनगर ने मनीषा बाल्मीकि को श्रद्धांजलि दी


शि.वा.ब्यूरो, अलीगढ। समाज सेवी व पूर्व सांसद प्रत्याशी लक्ष्मी धनगर ने हाथरस के बुलगढ़ी गांव में बहन मनीषा बाल्मीकि के साथ हुए अमानवीय अत्याचार, बलात्कार व उसकी हत्या के विरोध में छर्रा विधानसभा अंतर्गत गाँव बमनोई में महिलाओं के साथ शोकसभा कर श्रद्धांजलि दी।


लक्ष्मी धनगर ने कहा कि दबंग हत्यारों ने अनुसूचित जाति की लड़की का पहले बलात्कार किया, उसकी रीड की हड्डी तोड़ी और उसकी जुबान भी काट दी, ताकि वह कुछ बोल ना सके। औरतों व लड़कियों के साथ इस तरह की अमानवीय घटना भारतीय संस्कृति व समाज पर बड़ा कलंक है। इस घटना से फिर साबित हो गया है समाज में औरतें व लड़कियां सुरक्षित नहीं है। उन्होंने सरकार से मांग की कि फ़ास्ट ट्रेक कोर्ट का गठन कर दोषियों को फांसी की सजा दी जाए, ताकि इस तरह के घिनोने व अमानवीय कृत्य करने वालों को सबक मिल सके। इस दौरान खुसबू, रूबी, ममता, उषा, सर्वेश, भगवानश्री कलवती, नीतू, पूजा, गौरी, सीमा इत्यादि उपस्थित थी।