गांधी जयंती पर नारकण्डा में गांधी दर्शन व स्वच्छता पर कार्यक्रम आयोजित

डा. हिमेंद्र बाली 'हिम', शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।

 

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नारकण्डा में गांधी जयन्ती के उपलक्ष पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम विद्यालय, राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई, स्वर मृदुला यू ट्यूब चैनल, इको क्लब इकाई के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना के राज्य समन्वयक दलीप ठाकुर मुख्य रूप से उपस्थित रहे। जिला राष्ट्रीय सेवा योजना के समन्वयक अजय वशिष्ठ भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

इकाई के कार्यक्रम अधिकारी बृजभूषण ने अतिथियों का स्वागत किया। सभी अतिथियों व विद्यालय के अध्यापकों ने परिसर में सफाई अभियान चलाया। गांधी दर्शन व स्वच्छता पर परिचर्चा में भाग लेते हुए राज्य नेहरू युवा समन्वयक व साहित्यकार शिवेन पंडित ने कर्म सिद्धांत और कार्य संस्कृति की गिरती  परम्परा और वृति पर अपने विचार प्रकट किये। उन्होने बच्चों में अच्छे संस्कार देने पर बल दिया।


एनएसएस के जिला समन्वयक अजय वशिष्ठ ने गांधी जी के सत्य व अहिंसा के सिद्धांतों पर प्रकाश डाला और आज के संदर्भ में सारे विश्व में उनके विचारों की प्रासंगिकता पर विचार रखे। राज्य समन्वयक दलीप ठाकुर ने गांधी जी के कर्म सिद्धांत और स्वच्छता पर व्यापक प्रकाश डाला। उन्होने कहा कि गांधी जी ने स्वयम् कर्म का मार्ग अपनाकर समाज और राष्ट्र को कर्म की सर्वोच्चता का पाठ पढ़ाया। राष्ट्रीय सेवा योजना में त्याग और सेवा का सिद्धांत गांधी दर्शन से ही अंगीकार किया गया है।

प्रधानाचार्य डा हिमेन्द्र बाली ने गांधी जी की मानवतावादी और आध्यात्मिक सोच को पुन: स्थापित करने पर बल दिया.उन्होने कहा कि आज के परिप्रेक्ष्य में गांधी जी द्धारा प्रतिपादित आत्मशोधन का आजीवन प्रयत्न  ही आज के युग को चैतन्य और आदर्श बना सकता है।


मुख्य संपादक स्वर मदुला एवं अध्यक्ष सुकेत संस्कृति एवं जनकल्याण मंच कुमारसैन (शिमला) हिमाचल प्रदेश