गाॅंधी-शास्त्री की जयन्ती पर विभिन्न ऑनलाईन प्रतियोगिताओं का आयोजन किया


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। श्रीराम काॅलेज की आंतरिक गुणवत्ता सुनश्चयन प्रकोष्ठ (IQAC) द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गाॅंधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती के अवसर पर निबन्ध प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता, पोस्टर एवं स्लोगन मेकिंग आदि प्रतियोगिताओं का ऑनलाईन आयोजन किया गया, जिसमें महाविद्यालियों के सभी विभागों द्वारा अलग-अलग प्रतियोगिताऐं आयोजित करायी गईं, जिसमें शिक्षक शिक्षा विभाग द्वारा भाषण प्रतियोगिता, बेसिक साइंस विभाग तथा कम्प्यूटर एप्लीकेशन विभाग द्वारा पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता, वाणिज्य विभाग द्वारा निबन्घ प्रतियोगिता तथा पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग द्वारा प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता का आयोजन मुख्य रहा। निर्णायक मण्डल की भूमिका निदेशक श्रीराम काॅलेज डा0 आदित्य गौतम एवं प्राचार्य श्रीराम काॅलेज डा0 प्रेरणा मित्तल ने निभाई।  



श्रीराम काॅलेज की प्राचार्य डा0 प्रेरणा मित्तल ने विद्यार्थियों को राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के जीवन परिचय एवं देश की आजादी में उनका अभूतपूर्व योगदान से अवगत कराते हुये कहा कि कि आज के दिन 02 अक्टूबर 1869 को भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गाॅधी का जन्म गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। महात्मा गाॅंधी अहिंसावादी सोच में विश्वास रखते थे व लोगो में सत्य, अहिंसा एवं भाई-चारा को बढ़ाने के प्रति सजग रहते थे। महात्मा गाॅधी एवं लाल बहादुर शास्त्री ने विश्व में एक महान नेता, समाज सुधारक, शिक्षा शास्त्री होने के साथ-साथ अंग्रेजो की गुलामी से भारत को आजाद कराने में अपनी महती भूमिका अदा की। स्वतत्रता आंदोलन में भारतीयो को अंग्रेजो के अत्याचारों से तथा दबी सहमी भारत की जनता में आजादी व देश प्रेम की भावना को जागृत किया। 



तत्पश्चात विद्यार्थियो को निर्धारित समय में प्रतियोगिता से संबंधित कार्य पूर्ण कर आनलाईन प्रस्तुत करने के लिये कहा। विद्यार्थियों द्वारा अपनी कलात्मक एवं सृजानात्मक प्रतिभा का परिचय देते हुये दिये गये विषयों पर पोस्टर एवं स्लोगन बनाये तथा सारगर्भित निबन्ध प्रस्तुत किये गये । आयोजन में निशान्त राठी, डा0 सौरभ मित्तल, डा0 पूजा तोमर, डा0 सौरभ जैन, प्रमोद कुमार, विवेक त्यागी, रवि गौतम, डा0 विनीत कुमार शर्मा एवं सभी प्रवक्तागण का योगदान रहा।