कोरोना संक्रमण से बचाव,जनजागरूकता के लिए स्वास्थय विभाग व प्रशासन कर रहा काम, लगभग 50 हजार का टेस्ट कराया


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। जनपद के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा लोगों को कोरोना वायरस  से बचाव  व जनजागरूकता हेतु अनेक अभियान चलाए गए हैं जिसके अंतर्गत जनपद के नगरीय क्षेत्र सहित समस्त ब्लाॅकों में माईक से जनजागरूकता कराई गई है इसके साथ ही जनपद के समस्त चिकित्सालयों, विभागों में कोरोना हेल्पडेस्क स्थापित की गई है जहां पर कोई भी व्यक्ति करोना से बचाव हेतु जानकारी प्राप्त कर सकता है साथ ही किसी भी प्रकार की समस्या या लक्षण परिलक्षित होने पर चिकित्सकीय परामर्श लेकर अपनी जांच भी करा सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रत्येक गांव में आशाओं के द्वारा घर-घर जाकर करोना से बचाव हेतु लोगों को जागरूक किया जा रहा है। कोरोना वायरस से बचाव के लिए विभागाध्यक्षो ,समस्त विकास खंडों में ग्राम प्रधानों, नगरपालिका व नगर पंचायतों के सभासद गणों के लिए संवेदीकरण कार्यशाला का आयोजन भी कराया गया है। नुक्कड नाटकों के माध्यम से जनमानस को जागरूक किया गया।



स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोनावायरस से बचाव हेतु गांव में शहरों में ,भीड़भाड़ वाले इलाकों में, बाजारों में और कार्यालय आदि में थर्मल स्कैनिंग कराई गई। जनपद में कोरोना की जांच के लिए आशाओं द्वारा घर-घर जाकर सर्वे किया गया और जागरूकता हेतु स्टीकर भी लगाए गए हैं। लोगों को कोरोना से बचाव हेतु एवं जागरूक करने के उद्देश्य से मास्क का प्रयोग कैसे करें, कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत बच्चों और बुजुर्गों का कैसे ध्यान रखें ,सामाजिक दूरी को कैसे अपनाएं, क्या खाएं क्या ना खाएं,  आदि विषयों पर वीडियो संदेश बनाकर भी  सोशल मीडिया व जनसमुदाय में प्रसारित किए गए हैं। कोरोना से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी एवं सूचना के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में कंट्रोल रूम भी निरंतर 24 घंटे अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है जिसकी दूरभाष संख्या 0131-2440966 है इसके साथ ही जिला कलेक्ट्रेट में भी 24 घंटे कंट्रोल रूम जिसकी दूरभाष संख्या 0131-2436918 है जनपदवासियों को अपनी सेवाएं प्रदान कर रहा है। कोरोना से बचाव हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वयसेवी संगठनों के प्रतिनिधियों ,नेहरू युवा केंद्र के वालंटियर, एनसीसी अधिकारियों, स्काउट और गाइड ,रोटरी क्लब, लायंस क्लब, इनरव्हील क्लब  आदि को कोरोनावायरस से बचाव और जागरूकता के संबंध में जूम ऐप के माध्यम से प्रशिक्षित किया गया है।



जनपद में आरटीपीसीआर, रैपिड एंटीजन टेस्ट के द्वारा लगभग 50000  लोगों की जांच कराई जा चुकी है, निरंतर जनजागरूकता के लिए कार्य किया जा रहा है। स्थानीय सामुदायिक रेडियो एफ एम स्टेशन से जनजागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। सोशल मीडिया व वहाटसअप आदि ग्रुपो पर नागरिको को सही जानकारी से जागरूक किया जा रहा है। इस पर विशेष ध्यान है कि कोविड को लेकर कोई अफवाह गलत सूचना समुदाय मे प्रसारित होने से रोका जाये। नागरिक कोविड को लेकर मानसिक तनाव का सामना करे तो उनको परामशॅ तत्काल दिया जाये। इसके लिए जनपद स्तर पर काउंसलर मनोज कुमार 7417532386  को तैनात किया गया है । जिला चिकित्सालय व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में कार्यरत चिकित्सको द्वारा सामान्य रोगियो के इलाज हेतु टेलीमेडिसिन टेलीफोन के माध्यम से चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराया गया।