मेरे पापा

खुशबू, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।


 


जो खुशियों की कभी 

कमी न होने दें

वो पापा कहलाते हैं,

जो बच्चों की 

हर जरूरत को पूरा करते हैं

वो पापा कहलाते हैं,

जो दिन रात 

मेहनत करते हैं 

वो पापा कहलाते हैं,

जो परिवार को 

मां  बनकर पालते हैं 

वह पापा कहलाते हैं,

जो अपने परिवार का

ख्याल रखते हैं 

वो पापा कहलाते हैं।

 

दसवीं कक्षा की छात्रा, राजकीय उच्च विद्यालय ठाकुरद्वारा