शिक्षक


डाॅ दशरथ मसानिया,  शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।


खेल-खेल में बात बात में 
नवाचार सिखाता शिक्षक 1 
आदर्शों की मिसाल बनकर
जीवन बाल संवारे शिक्षक 2 
सदाबहार फूल-सा खिलकर
शिक्षा की बगिया है शिक्षक 3 
रंग-विरंगे फूल खिलाकर
बच्चों को महकाता शिक्षक 4 
नित्य नये प्रेरक आयाम से 
हर पल भव्य बनाता शिक्षक 5 
संचित ज्ञान का धन देकर 
खुशियां खूब मनाता शिक्षक 6 
दया धर्म अरु सदाचार की 
नैतिक सीख सिखाता शिक्षक 7 
मातृभूमि पर मर मिटने की 
बलिदानी राह बताता शिक्षक 8 
प्रकाशपुंज का स्रोत बनकर 
कर्तव्य सदा निभाता शिक्षक 9 
प्रेम सरिता की धारा बनकर 
नैया पार लगाता शिक्षक 10 
ज्ञान विज्ञान लेब बनाकर 
नये प्रयोग सिखाता शिक्षक 11 
दिल साहित्य बीज उगाकर 
मन विज्ञान बनाता शिक्षक 12 
स्वयं मोम सा जल करके भी 
जीवन ज्योति जलाता शिक्षक 13 


आगर (मालवा) मध्य प्रदेश