हिमाचल के सतीश शर्मा को डॉ अन्नपूर्णा भदौरिया सम्मान

शि.वा.ब्यूरो, शिमला। हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय संस्कृत पीएचडी शोध छात्र एवं शिक्षक सतीश शर्मा को साहित्य एक्सप्रेस और मासिक सांस्कृतिक पत्रिका आदित्य संस्कृति के वार्षिक साहित्यकार सम्मान कार्यक्रम में डॉ अन्नपूर्णा भदौरिया सम्मान से सम्मानित किया गया है। यह सम्मान देश की प्रख्यात साहित्यकार डाॅ.अन्नपूर्णा भदौरिया की स्मृति में हर वर्ष दिया जाना सुनिश्चित हुआ है।

गौरतलब है कि पत्रिका परिवार की ओर से जिन चुनिंदा साहित्यकारों को सम्मानित किया गया है, उनमें सतीश शर्मा ने भी अपना स्थान बनाया है। साहित्य एक्सप्रेस और आदित्य संस्कृति दोनों ही पत्रिकाएं देश के लगभग उन्नीस राज्यों में अपना परचम लहरा रही हैं। हिमाचल प्रदेश के साहित्यकारों की ओर से नियमित रूप से पत्रिका में उत्कृष्ट सृजन एवं महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए यह सम्मान सतीश शर्मा को पत्रिका संपादक भानु शर्मा और जगत शर्मा द्वारा प्रदान किया जाना था, परन्तु लॉकडाउन के चलते इन्हें यह सम्मान डाक द्वारा ही प्रेषित किया जाएगा।


बता दें कि सतीश शर्मा शिक्षा के क्षेत्र में भी अद्भुत कारनामा कर चुके हैं। यह तीन बार विश्वविद्यालय से गोल्ड मेडलिस्ट हैं। सतीश शर्मा के नाम व्याकरण विषयों में 100% मार्क्स लेने का राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी है।यह पांच बार यूजीसी नेट, दो बार सेट और जेआरएफ परीक्षा भी उतीर्ण कर चुके हैं। सतीश शर्मा साहित्य के क्षेत्र में भी अनवरत कार्यरत है। उन्होंने बताया कि जुलाई माह में उनके द्वारा लिखित काव्य संग्रह दरख़्त की छांव में पाठकों के मध्य होगी। इस सम्मान के लिए पत्रिका संपादक भानु शर्मा और जगत शर्मा ने सतीश शर्मा को बधाई प्रेषित की है।