वीरेन्द्र सिंह रावत ने की अपील, घर पर रहे व्यस्त रहे

शि.वा.ब्यूरो, देहरादून। वीरेन्द्र सिंह रावत ने की अपील करते हुए कहा है कि इंसान बाहरी वस्त्र जीवन भर अपने को विभिन्न रंगों से भरता है और समाज को अपने को सभ्य पुरूषों मे गिनाता है, पर क्या आप जानते है कि बेहतर कपड़े पहकर क्या वो इंसान अछा होगा? उन्होंने कहा है कि सभी उसका आदर सत्कार करते है, उसके अच्छे कपड़े देखकर सभी उससे मिलना चाहते है, आकर्षित होते है, जुड़ना चाहते है, लेकिन जब इंसान उसके व्यवहार, वाणी, ज्ञान, इंसानियत से वाकिफ होता है तो उसके कपड़े को देखकर उसके अंदर छुपे गंदे व्यावहार, शैतानी वाणी से नफरत करने लगते है। 

वीरेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि इंसान के कपड़े पर मत जाइए अछे कपडों के साथ साथ उसके अंदर छुपा इंसान को भी भलीभाँति पहचाने।  क्या उसकी सोच, व्यवहार, सकारात्मक सोच, इंसानियत, समाज के प्रति समर्पित भाव होना आवश्यक हो, जो इंसान कपड़ों से और मन से साफ होता है और समाज के विकास के लिए जीवन समर्पित कर देता है, वो ही जिवित होते हुए भी और मरने के बाद भी दुनिया में एक योद्धा की तरह अमर रहता है। उन्होंने कहा है कि इसलिए रंग मे मत जाए उसके कर्म पर विश्वास करे।

वीरेन्द्र सिंह रावत ने अपील की है कि स्वस्थ रहे, मस्त रहे, फिट रहे, हमेशा नशे से दूर रहे, हमेशा साफ सफाई करते रहे और घर पर रहे व्यस्त रहे।