श्रीराम कॉलेज के पत्रकारिता एवं जनसंचार के विद्यार्थियों ने जाने वेबिनार के माध्यम से पत्रकारिता, रंगमंच और फिल्म निर्माण के मूल सिद्धांत


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। आज श्रीराम कॉलेज के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग द्वारा पत्रकारिता, रंगमंच एवं फिल्म निर्माण एवं निर्देशन के मूल सिद्धांतो पर चर्चा की गई। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप मे प्रसिद्ध रंगमंच अभिनेता, फिल्म मेकर, लेखक और पत्रकार श्री आलोक शुक्ला जी का सानिध्य प्राप्त हुआ।  वेबिनार के दौरान अपने अनुभव साझा करते हुए अलोक शुक्ला जी ने पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के छात्र एवं छात्राओं को रंगमंच एवं पत्रकारिता के मुख्य बिंदुओं की जानकारी प्रदान करते हुए मूल सिंद्धान्तो पर प्रकाश डाला।
उन्होंने पत्रकारिता के विषय पर बोलते हुए कहा कि पत्रकारिता लोकतंत्र का चौथा स्तंभ है। यह कोई मनोरंजक कार्य न होकर देश के खास से आम नागरिक तक को देश और विदेशों की सच्ची घटनाओं से जिम्मेदारी पूर्ण तरीके से सूचित कराने की प्रक्रिया है। उन्होंने बताया कि पत्रकारिता के क्षेत्र में रहकर पत्रकार को निडर होकर, निष्पक्षता के साथ जनहित और राष्ट्रहित मे सच्चाई के साथ रहकर कार्य करना ही प्राथमिकता है। तभी आप एक सच्चे पत्रकार के रूप में अपने आप को समाज में स्थापित कर पाओगे। आज पत्रकारिता देश और समाज के निर्माण मे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है, क्योंकि बहुत कुछ हो जाने पर भी कलम जिम्मेदार पत्रकारों के हाथ में है, जो अनेको दबाव होने पर भी कलम से समझौता नहीं करते।



थिएटर के विषय में श्री शुक्ला ने बताया की यह एक मनोरंजन के साथ-साथ अद्भुत जानकारी प्रदान करने वाला क्षेत्र है। यह एक कला मंच है जो आपकी प्रतिभा को निखार कर जन मानस के समक्ष एक नया स्वरूप प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि अपने आस पास की घटनाओं, जीवन के किरदारों, छोटे-बड़ो, बच्चे-बूढ़ो तथा प्रकृति से जितना अच्छे से उनका पर्यवेक्षण करते है, उतने ही अच्छे जनसंचारक बन सकते है। फिर चाहे रंगमंच हो, पत्रकारिता हो, जन संबोधन हो, फिल्म हो या अन्य जनसंचार का कोई भी क्षेत्र हो निश्चित ही सफलता मिलेगी।
श्री शुक्ला ने सभी छात्र एवं छात्राओं के सवालों का जवाब बड़े ही प्रभावशाली तरीके से दिया और अपना अनुभव सभी छात्र-छात्राओं के साथ साझा कर अपने छात्र जीवन और संघर्ष काल की बहुत सी खट्टी मीठी घटनाओं को साझा किया। वेबिनार के अंत मे पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष रवि गौतम द्वारा मुख्यवक्ता को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि वेबिनार का विषय बहुत विस्तृत है, लेकिन अलोक शुक्ला जी ने इस विस्तृत विषय को बहुत ही सहजता से विद्यार्थियों के सम्मुख रख इसके तमाम व्यवहारिक पहलुओं से अवगत कराया है। 
इस अवसर पर पत्रकारिता विभाग के विभागाध्यक्ष रवि गौतम, वाणिज्य संकाय के विभागाध्यक्ष सीए सौरभ मित्तल, ललित कला विभाग की विभागध्यक्ष डाॅ0 रूपल मालिक एवं पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग की प्रवक्ता वैशाली रस्तौगी, शिवानी बर्मन, शिवानी गुप्ता उपस्थित रहे। वेबिनार के आयोजक मंडल में पूर्व छात्र समिति के सदस्य अक्षय शर्मा, हरीश सहरावत, सृष्टि चौधरी एवं नितिन चौधरी के साथ साथ पत्रकारिता संकाय के छात्र-छात्राओं एवं अन्य विभाग के छात्र-छात्राएं भी प्रमुख रुप से उपस्थित रहे।