फरार कोरोना वायरस का मरीज पकड़ा, पुलिस-प्रशासन सहित सभी ने ली राहत की सांस


शि.वा.ब्यूरो, बागपत। सीएचसी खेकडा से फरार हुए कोरोना पाॅजीटिव  नेपाली जमाती शफीक को आखिर खेकडा थाना क्षेत्र के ही बन्दपुर मार्ग से पकड़ ही लिया गया। पुलिस ने जमाती को पकड़कर उपचार के लिए भर्ती करा दिया। जमाती के पकड़े जाने से पुलिस-प्रशासन सहित सभी राहत की सांस ली है। मेरठ जोन के आईजी प्रवीण कुमार ने की बरामद होने की पुष्टि कर दी है।


बता दें कि अस्पताल से कोरोना पॉजिटिव जमाती के फरार होने के बाद पुलिस-प्रशासन के हाथ-पांव फूल गये थे। फरार जमाती की धरपकड़ के लिए जनपद की 11 नाका चैकियों को अलर्ट कर दिया गया था। हरियाणा के सोनीपत, यूपी के गाजियाबाद, मेरठ, शामली, मुजफ्फरनगर के पुलिस मुखियांे से इस बाबत लगातार सम्पर्क किया जा रहा था। नेपाल बॉर्डर से सटे जनपद पीलीभीत के कप्तान को फरार हुए जमाती की फोटो भेज दी गयी थी। खेकड़ा व आसपास के इलाके में कई जगह नाकेबंदी करके मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय कर दिया गया था। एसपी बागपत प्रताप गोपेन्द्र यादव ने ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे से जमाती के फरार होने की  आशंका व्यक्त की थी, जिसके चलते पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे व आसपास क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालने का काम आरम्भ कर दिया गया था। इसके साथ ही सोशल मीडिया के माध्यम से भी आरोपी तबलीगी जमाती का फोटो जारी कर पुलिस प्रशासन लगातार अपील कर रहा था। जमाती के बरामद होने से सभी ने राहत की सांस ली है।