संगीत सोम बनाम संजीव बालियान की तनातनी में नया मोड़, संजीव-संगीत युद्ध में संजीव बालियान का नया सेनापति बना संजीव खरदू

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। पूर्व सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री डाॅ. संजीव बालियान और मेरठ के सरधना विधानसभा क्षेत्र से विधायक ठाकुर संगीत सोम के बीच विवाद थमता नजर नहीं आ रहा है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष की नसीहत के बाद अब इस रार में पूर्व सांसद की ओर से सेनापति के रूप में संजीव खरदू का चेहरा सामने आया है, जिसने संगीत सोम के खिलाफ 10 करोड़ की मानहानि व 25 हजार वकील की फीस का कानूनी नोटिस भेजा है। 

बता दें कि पूर्व सांसद डाॅ.संजीव बालियान ने मुजफ्फरनगर में प्रेसवार्ता आयोजित कर इशारो-इशारों में बिना किसी का नाम लिए संगीत सोम को विभीषण और जयचंद की संज्ञा दे डाली थी। इससे पूर्व भी संगीत सोम और डाॅ.संजीव बालियान के बीच तनातनी के चर्चे आम होते रहे हैं। डाॅ.संजीव बालियान की प्रेस वार्ता के जवाब में संगीत सोम ने मेरठ स्थित अपने आवास पर प्रेसवार्ता करके जहां पूर्व सांसद के सभी आरोपों को नकारते हुए उनके पक्ष में जमकर वर्करी करने की बात कही थी, वहीं उन्होंने अपनी नाराजगी पार्टी फोरम पर ही उठाने की सलाह दी थी। प्रेस वार्ता के दौरान दो पृष्ठ का प्रेस नोट भी बांटा गया था। हालांकि पार्टी के प्रदेश नेतृत्व के नाराजगी के चलते संगीत सोम ने प्रेस नोट का फर्जी व प्रेस नोट बांटने वाले व्यक्ति को संदिग्ध करार देते हुए मामले की जांच के सम्बन्ध में थाने में एक तहरीर देकर डेमेज कंट्रोल करने प्रयास किया था, लेकिन अब संजीव सहरावत उर्फ संजीव खरदू द्वारा भेजे गये कानूनी नोटिस ने मामले का नया मोड़ दे दिया है। 

संगीत सोम की प्रेस वार्ता के दौरान बाटे गये कथित फर्जी प्रेस नोट में आरोप लगाया गया था कि डाॅ.संजीव बालियान ने केन्द्रीय मंत्री रहते हुए आस्ट्रेलिया में बड़े पैमाने पर सम्पत्ति अर्जित की है, जिसकी देखरेख के लिए उन्होंने अपने हरियाणा निवासी मित्र संजीव सहरावत उर्फ संजीव खरडू के लिए आस्ट्रेलिया का स्थायी पास भी बनवा रखा है। उन्होंने बताया है कि संजीव खरडू ही आस्ट्रेलिया में अर्जित की गयी सम्पत्ति का गवाह भी है। संगीत सोम ने प्रेस नोट में आरोप लगाया था के संजीव बालियान ने ऑस्ट्रेलिया के इतिहास का सबसे बड़ा बैनामा अपने नाम कराया है और जिसे संजीव बालियान के हरियाणा निवासी मित्र संजीव खरदू के द्वारा कराया गया है। प्रेस नोट में लगाये गये इसी आरोप को आधार बनाकर संजीव सहरावत उर्फ संजीव खरदू ने 10 करोड़ की मानहानि और 25000 रुपए वकील की फीस को कानूनी नोटिस भेजकर मामले को तूल दे दिया है। वे संगीत सोम बनाम संजीव बालियान की लड़ाई में संजीव बालियान के सेनापति की भूमिका में सामने आये हैं। अब देखना है कि भाजपा प्रदेश नेतृत्व के हस्तक्षेप के बाद संगीत सोम को भेजे गये कानूनी नोटिस के बाद संगीत सोम बनाम संजीव बालियान की लड़ाई क्या मोड़ लेती है।

Comments
Popular posts
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धरेच में आयोजित दश दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर सम्पन्न
Image
एडीएम वित्त ने मारा छापा, तहसील के क्वार्टर में सरकारी कामकाज करते पकड़ दो बाहरी व्यक्ति
Image
लेखपालों के पास कुछ प्राइवेट हेल्परों को कार्य करते हुए रंगे हाथ पकड़ा
Image
जिलाधिकारी मनीष बंसल ने किया कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण
Image
राजस्व परिषद के अध्यक्ष डॉ0 रजनीश दुबे ने किया कलैक्ट्रेट के विभिन्न पटलों, कंट्रोल रूम का निरीक्षण, राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के पेशकार को निलम्बित करने के निर्देश
Image