युटीडीसी ने की बराकघाटी को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की मांग

मदन सिंघल, सिलचर। यूटीडीसी के अधिकारियों और आयोजकों ने स्पष्ट रूप से कहा कि 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले बराक घाटी को नया केंद्र शासित प्रदेश घोषित किया जाना चाहिए केंद्र शासित प्रदेश मांग समिति ने की अहम मांगें-यूटीडीसी ने यह भी बताया है कि केंद्र सरकार अगले नवंबर तक केंद्र शासित प्रदेश के गठन की प्रक्रिया शुरू करने के लिए बराक घाटी में एक "निगरानी टीम" भेजेगी। 

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने लंबे समय से चली आ रही जनता की मांग को पूरा करने के लिए शीघ्र कदम नहीं उठाए तो दिसंबर से यूटीडीसी आंदोलन बंद कर देगी, क्योंकि 1972 के बाद से लगातार बराक घाटी को केंद्र शासित प्रदेश बनाने की जो मांग उठती रही है, उस पर कई बार केंद्र सरकार ने सहमति भी जताई है.  परंतु अंततः विभिन्न बाधाओं के कारण यह लक्ष्य आज तक पूरा नहीं हो सका है, इसलिए केंद्र सरकार को बारा को केंद्र शासित प्रदेश बनाने में किसी भी बहाने से संकोच नहीं करना चाहिए

यूटीडीसी के केंद्रीय अध्यक्ष संजीत देबनाथ, आयोजन सचिव बिप्लब पाल चौधरी, प्रथम उपाध्यक्ष मायाजुल अली बरभूइया, महासचिव मृण्मयकुमार नाथ, संपादक सौमित्र नाथ, अनुपकुमार नाथ, ताचिर अली, सुवर्णभूमि राष्ट्रीय समिति के अध्यक्ष नजरुल इस्लाम लश्कर, यूटीडीसी के मुख्य समन्वयक, शंकर डे और अन्य ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की।
Comments
Popular posts
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय धरेच में आयोजित दश दिवसीय संस्कृत संभाषण शिविर सम्पन्न
Image
एडीएम वित्त ने मारा छापा, तहसील के क्वार्टर में सरकारी कामकाज करते पकड़ दो बाहरी व्यक्ति
Image
लेखपालों के पास कुछ प्राइवेट हेल्परों को कार्य करते हुए रंगे हाथ पकड़ा
Image
जिलाधिकारी मनीष बंसल ने किया कलेक्ट्रेट परिसर का निरीक्षण
Image
राजस्व परिषद के अध्यक्ष डॉ0 रजनीश दुबे ने किया कलैक्ट्रेट के विभिन्न पटलों, कंट्रोल रूम का निरीक्षण, राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक भी की, बन्दोबस्त अधिकारी चकबन्दी के पेशकार को निलम्बित करने के निर्देश
Image