संस्कार भारती ने आराधना कार्यक्रम आयोजित किया

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। साहित्य एवं कला को समर्पित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की एक अनुषांगिक संस्था अखिल भारतीय संस्था संस्कार भारती द्वारा एसडी कालेज फ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी के सभागार में आराधना कार्यक्रम आयोजित किया गया, कार्यक्रम में संस्कार भारती के उपाध्यक्ष महेन्द्र आचार्य व विभाग संयोजक डा0 कीर्तिवर्धन प्रान्तीय प्रतिनिधी के रूप में उपस्थित रहे।

इस अवसर पर संस्कार भारती के जिलाध्यक्ष प्रो0 एसएन चौहान ने बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव काल व संस्कार भारती के संस्थापक श्रद्धेय बाबा योगेन्द्र जी की जन्म शताब्दी वर्ष के रूप में पूरे देश में आराधना कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि श्रद्धेय बाबा योगेन्द्र जी का जन्म 07 जनवरी को उ0प्र0 के बस्ती जिले में हुआ था और उन्होने साल 1981 में संस्कार भारती का गठन किया, जिसका उददेश्य भारत की कला एवं संस्कृति को पुर्नस्थापित करना व जन जन तक भारतीय साहित्य कला व संस्कृति को पहुँचाना है। उन्होंने बताया कि आज भारत ही नही विदेशों में भी संस्कार भारती कार्य कर रही है, ताकि हम भारतीय होने पर गर्व कर सकें। उन्होंने बताया कि संस्कार भारती जनपद स्तर पर गाँव व दूरदराज के इलाकों में रहने वाले शिक्षित, अशिक्षित साहित्य एवं कला साधकों को राष्ट्रीय स्तर तक पटल प्रदान करने का कार्य करती है, ताकि हमारी लोककलायें (चित्रकला, काष्ठकला, संगीत, गायन) भारतीय संस्कृति की धरोहर के रूप में उत्तरोत्तर जन जन के हृदय में फलती फूलती रहे। 
 

महेन्द्र आचार्य जी ने श्रद्धेय बाबा योगेन्द्र जी का जीवन वृत तथा अपने संस्मरण सांझा किये। कार्यक्रम में उपस्थित सभी कार्यकर्ता बंधु एवं मातृशक्ति ने श्रद्धेय बाबा योगेन्द्र जी के चित्र पर माल्यपर्ण एवं पुष्प अर्पित किये। इस अवसर पर विचार गोष्ठी के साथ-साथ काव्य पाठ भी हुआ, जिसमें डा0 कीर्तिवर्धन, पंकज शर्मा, कविता सेन, रामकुमार ’रागी’ आदि ने कविता पाठ किया। 


इस अवसर पर डा0 एके गौतम, अभिषेक राय, मनोज झा, डा0 प्रगति शर्मा, मनोज गुप्ता, मृदुल शर्मा, अंकित गर्ग, पुनित गोयल, विकुल त्यागी, निलांशु गुप्ता, शिवानी कौशिक, राजेन्द्र कुमार, मनोज कुमार, राजीव कुमार, धीरज कुमार, प्रमोद कुमार, दिनेश कुमार, धर्मवीर सिंह, ब्रजमोहन आदि उपस्थित रहे।