हर्षोल्लास के साथ मनाया गया शाह सतनाम महाराज का अवतार दिवस

विवेक जैन, बागपत। समाजसेवा में विश्व की सबसे बड़ी शीर्ष संस्थाओ में शुमार डेरा सच्चा सौदा ने आश्रम की दूसरी पातशाही शाह सतनाम सिंह जी महाराज के 104 वें अवतार दिवस को विश्वभर में बड़े ही धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। मुख्य कार्यक्रम डेरा सच्चा सौदा के शाह सतनाम जी आश्रम बरनावा बागपत में डेरा प्रमुख गुरू संत डॉक्टर गुरमीत राम रहीम सिंह इंसान के पावन सानिध्य में सम्पन्न हुआ। 

इस अवसर पर संत गुरमीत राम रहीम सिंह ने समस्त विश्व में फैली डेरे की साध-संगत को आशीष वचन प्रदान किये और विश्व कल्याण, देश की उन्नति, मानव समाज के उत्थान व जरूरतमंद लोगों की हर सम्भव सहायता करने की बात कही। कहा कि नेक कार्य में धर्म, जाति-पाति, ऊॅंच-नीच, छोटा-बड़ा आदि पर बिल्कुल भी ध्यान ना दे और इंसानियत को अपना पहला कर्तव्य मानते हुए लोगों की सेवा के लिए कार्य करें। कहा कि पृथ्वी और उस पर रहने वाले जीव, पशु-पक्षी, पेड़-पौधे, समुद्र-नदी आदि सहित समस्त ब्रहमाण्ड़ का निर्माण एक ही शक्ति द्वारा किया गया है बस हम उस शक्ति को अलग-अलग नामों से पुकारते है। संत गुरमीत राम रहीम ने समस्त लोगों से नकारात्मक ना सोचने और सकारात्मकता को अपने जीवन में धारण करने को कहा।

शाह सतनाम सिंह जी महाराज के पावन अवतार दिवस में अनेकों गरीब लोगों को राशन वितरित किया गया, गरीब लड़कियों की शादी करवायी गयी, गरीबों को मकान की चाबी सौंपी गयी। इसके अलावा अनेकों मानव कल्याण के कार्य किये गये। नृत्यों व विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को अच्छे कार्य करने के लिए जागरूक किया गया। इस अवसर पर एक विशाल भंडारे का आयोजन किया गया, जिसमें लाखों साध-संगत ने प्रसाद ग्रहण किया। शाह सतनाम सिंह जी महाराज के पावन अवतरण दिवस पर विशाल आश्रम को रंग-बिरंगी लाईटों से सजाकर भव्य रूप दिया गया और साध-संगत द्वारा लाखों की संख्या में दीपक जलाये गये। वर्तमान में डेरा सच्चा सौदा द्वारा विश्वभर में 151 प्रकार के मानवता भलाई के कार्य किये जा रहे है और बड़ी संस्थाओं द्वारा डेरे की साध-संगत के अनुशासन की मिसाले दी जाती है।