मीट कारोबारी व सांसद फजर्लुरहमान कुरैशी के यहां आयकर विभाग की छापेमारी तीसरे दिन भी जारी

गौरव सिंघल, सहारनपुर। बसपा सांसद और उत्तर प्रदेश के बड़े मीट कारोबारी हाजी फजर्लुरहमान कुरैशी के तीन आवास एवं एक कार्यालय, दो मीट फैक्टरियों एवं स्टोन क्रशर पर आयकर विभाग की छापेमारी आज तीसरे दिन भी जारी रही। दिल्ली और देहरादून के आयकर विभाग की पांच टीमों ने मंगलवार सुबह छापेमारी की कार्रवाई शुरू की थी, जो आज तीसरे दिन भी चली। 

छापेमारी के दौरान मकानों के अंदर और बाहर आईटीबीपी के जवान मुस्तैदी से ड्यूटी दे रहे हैं। सांसद और उनके परिजनों को बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक आयकर अधिकारियों ने लैपटाप, कंप्यूटर और दस्तावेज अपने कब्जे में ले लिए हैं। कीमती सामान और जेवरात का भी टीम मूल्यांकन कर रही हैं। आयकर संबंधी रिकार्ड को भी खंगाला जा रहा है। टैक्स चोरी की भी जानकारियां सामने आ रही हैं। आयकर टीम ने फैक्टरियों में लगे सीसीटीवी कैमरों की हार्ड डिस्क भी अपने कब्जे में ली है। सूत्रों के मुताबिक आयकर अधिकारी अपने सवालों के जवाब फैक्टरी के प्रबंधकों और अधिकारियों से ले रहे हैं। सांसदउनका परिवार और फैक्टरी प्रबंधक आयकर अधिकारियों को छापेमारी के दौरान पूरा सहयोग कर रहे हैं। यह बात भी सामने आ रही है कि आयकर अधिकारी फैक्टरी के तीन बड़े अधिकारियों से मिलना और पूछताछ करना चाहते हैं। वे अभी तक उनके समक्ष उपस्थित नहीं हो पाए हैं। खबर लिखे जाने तक आयकर की छापामारी को 60 घंटे हो चुके हैं। हाल फिलहाल के दिनों में आयकर विभाग की इतनी लंबी सर्च नहीं हुई है। 

बता दें कि सांसद फजर्लुरहमान बेहद रसूकदार और बड़े मीट कारोबारी हैं। 2019 के लोकसभा चुनाव में वह सहारनपुर लोक सभा सीट से सपा के समर्थन से बसपा के टिकट पर भाजपा के तत्कालीन सांसद और उम्मीदवार राघव लखनपाल शर्मा को पराजित कर सांसद चुने गए थे। उससे पूर्व वह सहारनपुर मेयर का चुनाव बहुत थोड़े से मतों के अंतर से भाजपा उम्मीदवार संजीव वालिया से हार गए थे। मौजूदा सियासी हालात में दिग्गज मुस्लिम नेता इमरान मसूद की बसपा में एंट्री हो जाने के बाद से फजर्लुरहमान बसपा में असहज महसूस कर रहे हैं।