बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योेजना के तहत महिला चिकित्सालयों, सीएचसी एवं ब्लाॅक कार्यालयों में कन्या जन्मोत्सव माह के प्रथम एवं तृतीय सोमवार को

गौरव सिंघल, सहारनपुर। शासन के उच्च निर्देशों के तहत जिलाधिकारी अखिलेश सिंह के मार्गदर्शन में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योेजना के अन्तर्गत राष्ट्रीय बालिका दिवस मनाए जाने के लिए महिला कल्याण विभाग द्वारा जारी कैलेण्डर के अन्तर्गत कन्या जन्मोत्सव का आयोजन प्रत्येक माह के प्रथम व तृतीय सोमवार को बालिका के जन्म के प्रति समाज में सकारात्मक सोच को बढावा देने के लिए जनपद के जिला महिला चिकित्सालय, सी0एस0सी0, ब्लाक कार्यालयों मे आयोजित किया जाना है। जिला महिला चिकित्सालय में कन्या जन्मोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

जिला प्रोबेशन अधिकारी अभिषेक कुमार पाण्डेय ने जानकारी देते हुए बातया कि कन्या जन्मोत्सव कार्यक्रम का शुभारम्भ महिला चिकित्सालय अधीक्षक डा0 रतनपाल सिंह सुमन द्वारा किया गया। कार्यक्रम में महिला चिकित्सालय में जन्म लेने वाली 11 नवजात बालिकाओं की माताओं को बेबी किट (बेबी शाॅप, बेबी आयल, बेबी पाउडर, बेबी शैम्पू आदि) प्रदान करते हुए उनके घरों पर बेटी के पहचान हेतु नेम प्लेट व बेटियों की माताओं को बधाई पत्र भेंट कर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य जनसामान्य को बेटियों के जन्म के प्रति जागरूक करना तथा लिंगानुपात को बढावा देना है। महिला कल्याण अधिकारी नेहा शर्मा द्वारा महिलाओं व बालिकाओं के लिए संचालित योजनाओं के विषय में विस्तारपूर्वक जानकारी प्रदान करते हुए सखी-वन स्टाॅप सेन्टर, निराश्रित महिला पेंशन योजना, कन्या भ्रूण हत्या रोकथाम, बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम, पी0सी0पी0एन0डी0टी0 अधिनियम के विषय में जानकारी प्रदान की गयी। 

रूपा हरित द्वारा लाभार्थीपरक योजनाओं-कन्या सुमंगला योजना, सुकन्या समृद्धि योजना, प्रधानमंत्री मातृ वन्दन योजना तथा जननी सुरक्षा योजना से लाभान्वित करने हेतु जागरूक किया गया तथा मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के आवेदन कराये गये। कार्यक्रम में जिला समन्वयक महिला शक्ति केन्द्र श्रीमती रोबिन सैनी, पैरामेडिकल नर्स सखी वन स्टाप सेंटर श्रीमती शैलजा शर्मा व महिला चिकित्सालय का स्टाफ उपस्थिति रहा।