विशेष टीकाकरण में शून्य से पांच साल तक के 4.20 लाख बच्चों को लगेगा टीका, अभियान नौ जनवरी से

शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर जनपद में शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए नौ से 20 जनवरी तक विशेष टीकाकरण अभियान चलाया जाएगाजिसमें किसी भी कारणवश टीकाकरण से छूटे शून्य से पांच साल तक के बच्चों का टीकाकरण किया जाएगा, इसके लिए आगंनबाड़ीआशा कार्यकर्ता,एएनएम और सुपरवाइजर को जिम्मेदारी दी गई है और निर्देशित किया गया है कि शत प्रतिशत टीकाकरण हो और कोई भी बच्चा टीकाकरण से वंचित न रहे। आशा व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मोबिलाइजेशन का कार्य और एएनएम टीकाकरण करेंगी।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. महावीर सिंह फौजदार ने बताया कि नौ से 20 जनवरी तक विशेष टीकाकरण अभियान के लिए सभी तैयारी कर ली गई हैं। आगंनबाड़ीआशा कार्यकर्ता,एएनएम और सुपरवाइजर को संबंधित क्षेत्र में बच्चों का टीकाकरण कराने का लक्ष्य दिया गया है। उन्होंने कहा कि अभियान चलाकर टीकाकरण से छूटे बच्चों को वैक्सीन लगाई जाएगी ताकि शिशु का ससमय नियमित टीकाकरण सुनिश्चित हो सके और शिशु मृत्यु दर में कमी लाई जा सके। उन्होंने बताया कि बचपन में होने वाली बीमारियों से बचाव के लिए सबसे बेहतर उपाय टीकाकरण है। इससे धनऊर्जा एवं जीवन की बचत होती है तथा शिशु मृत्यु दर में कमी लाने में काफी सहायक होता है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के दौरान लगने वाली वैक्सीन शरीर को रोग से लड़ने की क्षमता को बढ़ाती है। उन्होंने बताया कि इसके लिए एएनएम आशा व आगंनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर शिशु के टीकाकरण के लिए प्रेरित करेंगी और टीकाकरण से फायदे के बारे में अवगत कराएंगी।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. विपिन कुमार ने बताया कि इसके लिये विभाग की ओर से पूरा सर्वे किया जा चुका है। उन्होंने कहा कि बच्चों को बीसीजीपैंटाएमआरआईपीवीडीपीटीटीडीहैपाटाइसिसमिजल रूबेला आदि के टीके लगाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जनपद में विशेष टीकाकरण अभियान के तहत 1029 सत्रों में 4.20 लाख बच्चों का टीकाकरण किया जाएगाजिसमें ब्लॉक बघरा में 85 सत्र,  ब्लॉक बुढ़ाना में 137 सत्रचरथावल में 76 सत्र,  जानसठ में 79 सत्रगालिबपुर में 144 सत्रखतौली में 35 सत्रमेघाखेड़ी में 124 सत्रमोरना में 117 सत्रमुजफ्फरनगर सदर यूपीएचसी में 29 सत्रयूपीएचसी रामपुरी में 45 सत्रयूपीएचसी सरवट में 21सत्रयूपीएचसी सुभाषनगर में 18सत्रयूपीएचसी खालापार में 29 सत्र, ब्लॉक पुरकाजी में 67 सत्र और ब्लॉक शाहपुर में 52 सत्रों में बच्चों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि इसका पहला चरण नौ से 20 जनवरीदूसरा चरण 13 से 23 फरवरी और तीसरा चरण 13 से 23 मार्च तक चलेगा।