विस उपचुनाव के बहाने नेता जी कर रहे पालिका चुनाव की तैयारी
डाo के एस भौज्ञान, शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र।
विधानसभा चुनाव के बहाने नगर पालिका परिषद चुनाव की तैयारी में कुछ भावी उम्मीदवार लगे हुए हैं और किसी भी वीआईपी अथवा प्रचार के दौरान उनके  साथ फोटो खिंचवाने एवम् हाजिरी लगाना उनकी मंशा को साफ जाहिर करता है। कुछ भावी प्रत्याशी साफ तौर पर सामने हैं तो कुछ बैक डोर से अपनी उपस्थिति दर्ज कराने से नहीं चूक रहे हैं। क्योंकि सोशल मीडिया पर उपस्थिति दर्ज कराना  शायद उनके एजेंडे में है। ऐसा किसी एक राजनितिक दल में नहीं है, मुख्य रूप में भाजपा, सपा, रालोद में यह स्थिति देखी जा सकती है। गौरतलब है कि आसपा, सपा, रालोद गठबन्धन के अलावा भाजपा चुनावी मुकाबले में है, और इन्हीं दलों में खासकर अपने को दिखाने की होड़ मची हुई है। ख़ासतौर पर सपा में एक व भाजपा में एक से अधिक कथित भावी उम्मीदवार टिकिट पाने वालों की लाइन में हैं। यह बात अलग है कि अभी निकाय चुनाव की विधिवत रूप में घोषणा नहीं हुई है, परन्तु यह तो निश्चित तौर पर माना जा रहा है कि उपचुनाव का परिणाम आते आते निकाय चुनाव की घोषणा कर दी जायेगी। बताते चलें कि नगर निकाय चुनाव अब पार्टी स्तर पर होता है जिसमें हर पार्टी अपना अधिकृत प्रत्याशी घोषित करती है और वही चुनाव लड़ता है। नगरपालिका परिषद खतौली जनपद की अति महत्वपूर्ण पालिकाओं में मानी जाती है। एक ओर खतौली विधानसभा उपचुनाव चल रहा है तो दूसरी ओर भावी उम्मीदवार इसी चुनाव प्रचार के दौरान पालिका परिषद क्षेत्र में मतदाताओं के बीच अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहे हैं जिससे वह उनका विशेष ध्यान रखें। इतना ही नहीं वह चुनाव प्रचार अभियान में शामिल दिग्गजों के मन में भी उतरने का प्रयास कर रहे हैं ताकि निकाय चुनाव में उन्हें पार्टी टिकिट पाने में मदद मिले। हालांकि ऐसे भावी उम्मीदवार इस संबंध में पत्रकारों से वार्ता के दौरान सवाल टालने में ही अपनी भलाई समझते हैं।
वरिष्ठ पत्रकार खतौली, जिला मुजफ्फरनगर, उत्तर प्रदेश