महापरिनिर्वाण दिवस पर मौन धारण कर भीमराव अंबेडकर को श्रद्धांजलि अर्पित की

गौरव सिंघल, देवबंद। उच्च प्राथमिक विद्यालय साखन कलां में भीमराव अंबेडकर के महापरिनिर्वाण दिवस पर छात्र-छात्राओं और अध्यापकों द्वारा दो मिनट का मौन धारण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान अध्यापक सय्यद वजाहत शाह ने छात्र-छात्राओं को बताया कि डॉक्टर भीम राव अंबेडकर ने कहा था जब तक हम तीन तरह से शुद्धिकरण नहीं करते, तब तक हमारी स्थायी प्रगति नहीं हो सकती। हमे अपना आचरण सुधरना होगा, अपने बोलचाल का तरीक़ा बदलना होगा और विचारों में दृढ़ता लानी होगी। उनके यह कथन आज भी सत्य, अनमोल और सार्थक हैं। इस दौरान पूजा चौधरी, वैशाली और मोहम्मद उवैस मौजूद रहे।