दंपत्ति और बहन को जीप ने रौंदा

गौरव सिंघल, सहारनपुर। बीती रात एक दर्दनाक एवं बेहद दुखद सड़क हादसे में एक दंपत्ति और बहन की जीप से कुचलकर दुखद मौत हो गई। दंपत्ति का तीन वर्षीय बालक विहान के सिर से मां-बाप का साया उठ गया जबकि पांच वर्षीय बालक दक्ष की मां इस हादसे में चल बसी। 

एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक ने आज बताया कि पुलिस ने जीप चालक सुनील पंथी को गिरफ्तार कर लिया है और थाना कुतुबशेर पुलिस ने जीप को अपने कब्जे में ले लिया है। एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक ने बताया कि दुखद सड़क हादसे में जान गंवाने वाले 34 वर्षीय राधेश कुमार उनकी पत्नी 30 वर्षीय सपना थाना सदर बाजार क्षेत्र के गांव जन्धेड़ी के रहने वाले थे। जबकि राधेश कुमार की छोटी बहन 28 वर्षीय संगीता नवीन नगर निवासी थी। नकुड़ क्षेत्र के गांव मच्छरहेड़ी में एक शादी समारोह में शामिल होने गए थे। यह सड़क हादसा बीती रात नकुड़ रोड़ पर गांव कुमारहेड़ा के पास हुआ। 

मांगलिक के मुताबिक संगीता अपने पांच वर्षीय बेटे दक्ष के साथ सड़क किनारे खड़े होकर अपने भाई राधेश कुमार और भाभी सपना का इंतजार कर रहे थे कि जैसे ही राधेश और उनकी पत्नी बाइक से संगीता के पास पहुंचे कि उसी दौरान पीछे से आ रही बुलेरो कार ने बाइक को पीछे से जबरदस्त टक्कर मार दी। जिससे दंपत्ति और संगीता तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए। बालक दक्ष और रिहान भी घायल हो गए। सूचना मिलने पर थाना प्रभारी कुतुबशेर सूबे सिंह पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और पांचों जनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहां चिकित्सकों ने उपचार के दौरान राधेश कुमार, उनकी पत्नी सपना और बहन संगीता को मृत घोषित कर दिया। 

इस दर्दनाक हादसे ने जहां युवा दो महिलाओं और एक पुरूष की जान गई, वहीं एक बालक के सिर से उसकी मां संगीता का साया उठ गया, जबकि दूसरा बालक अनाथ हो गया। उसके माता-पिता दोनों की जान चली गई। पुलिस ने बुलेरो गाड़ी को अपने कब्जे में ले लिया। चालक सुनील पंथी निवासी उत्तराखंड को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने चालक सुनील पंथी चिकित्सकीय जांच कराई। जांच में पाया गया कि वह शराब पिए हुए नहीं था। 

थानाध्यक्ष सूबे सिंह के मुताबिक चालक सुनील पंथी के साथ जो दूसरा साथी गाड़ी में बैठा हुआ था वह जरूर शराब पिए हुए था। चिकित्सकों के मुताबिक तीनों की मौत सिर में गंभीर चोट लगने से हुई। इसी के साथ इस साल सहारनपुर में सड़क दुर्घटनाओं में जान गंवाने वालों लोगों की संख्या 256 हो गई है। परिवहन विभाग के मुताबिक नवंबर-2022 माह तक इस जिले में 1324 सड़क हादसों में 256 लोगों की जान गई और 998 लोग घायल हो गए। सड़क हादसों में सहारनपुर में औसतन रोज एक व्यक्ति की जान जा रही है।