उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह का दावा: निकाय चुनाव में मुस्लिमों को भी मिलेंगे टिकट

गौरव सिंघल, सहारनपुर। उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह पश्चिमी उत्तर प्रदेश की जाट पट्टी में दौरे पर निकले तो यहां कार्यकत्र्ताओं और समर्थकों ने गरमजोशी के साथ उनका स्वागत किया। चौधरी भूपेंद्र सिंह कई वर्षों से संगठन में और मंत्री के तौर पर इस क्षेत्र में अपनी खासी पहचान और पैठ रखते हैं। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद आज पहली बार वे सहारनपुर पहुंचे और उन्होंने अपने दिन की शुरूआत मां शाकुम्बरी देवी के दर्शनों और पूजा अर्चना के साथ की।

चौधरी भूपेंद्र सिंह ने सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भारतीय जनता पार्टी मेनपुरी लोकसभा उपचुनाव और रामपुर एवं खतौली विधानसभा उपचुनाव में बहुत जल्द उम्मीदवारों की घोषणा कर देगी। उन्होंने कहा कि इन चुनावों के साथ-साथ दिसंबर माह में होने वाले स्थानीय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार की उपलब्धियों और कार्यकर्त्ताओं के बल पर लड़ेगी और जीतेगी। उन्होंने कहा कि 2024 के लोकसभा चुनावों से पूर्व होने वाले स्थानीय निकायों के चुनावों में प्रदेश की 25 फीसद आबादी भागीदारी करेगी। इसलिए उन चुनावों का हमारे लिए बहुत महत्व है।

उन्होंने कहा कि पिछली बार भाजपा ने नगर निगम में 14 स्थानों पर जीत दर्ज की थी और 72 नगर पालिका परिषदों में भाजपा के चेयरमैन चुने गए थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में इस बार शाहजहांपुर में भी नगर निगम बन गई है। उस समेत 17 नगर निगमों के चुनाव होंगे। उत्तर प्रदेश में  करीब 200 नगर पालिकाएं हैं और 550 के करीब नगर पंचायतें हैं। इन चुनावों को लेकर भाजपा की पूरी तैयारी है। मतदाता सूची का काम तेजी से पूरा हो रहा है। हमारी पार्टी का बूथ स्तर तक का संगठन मजबूत है। उन्होंने कहा कि वे प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद 42-43 जिलों में जा चुके हैं। उन्होंने आगे कहा कि भाजपा किसी एक जातीय या भाषा की पार्टी नहीं है। हमारी योजनाओं में किसी के साथ कोई भी भेदभाव नहीं होता है। इस बार भाजपा सभी वार्डों में अपने उम्मीदवार उतारेगी और सभी उम्मीदवार भाजपा के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेगे। मुस्लिमों को भी टिकट दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार जल्द ही गन्ना मूल्य की घोषणा करेगी। हमारी सरकार ने चीनी मिलों की क्षमता बढ़ाई है। बंद चीनी मिलों को शुरू कराया है और सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि सभी चीनी मिलें केन-एक्ट के अनुसार 14 दिनों के भीतर गन्ना मूल्य का भुगतान कराएगी। इस सवाल के जवाब में कि वह खुद जाट बिरादरी से हैं और वह पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जाट बाहुल इलाकों में रालोद नेता जयंत चौधरी के प्रभाव का कैसे मुकाबला करेंगे। चौधरी भूपेंद्र सिंह ने कहा कि जाट बिरादरी में जन्म लेने पर उन्हें गर्व है और मेरी पार्टी ने मुझे यह जिम्मेदारी सौंपी है। 1996 में वह मुरादाबाद जैसे बड़े जिले के अध्यक्ष रहे। पार्टी लगातार उन्हें सेवा का मौका दे रही है। वह सभी कार्यकर्त्ताओं को साथ लेकर चलेंगे और पार्टी को जनता के आशीर्वाद से सफल बनाएंगे।

उनके साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भाजपाध्यक्ष मोहित बेनीवाल, राज्य मंत्री बृजेश रावत, राज्य मंत्री जसवंत सैनी, मेयर संजीव वालिया, विधायक देवेंद्र निम, विधायक राजीव गुंबर, विधायक चौधरी कीरत सिंह, भाजपा के प्रदेश महामंत्री डा. चंद्रमोहन सिंह, नकुड के भाजपा विधायक मुकेश चौधरी, भाजपा जिलाध्यक्ष डा. महेंद्र सैनी, सहारनपुर महानगराध्यक्ष राकेश जैन और पूर्व विधायक नरेश सैनी, पूर्व विधायक जगपाल सिंह आदि मौजूद थे। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने आज संगठन के पदाधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठकें की और स्थानीय निकायों की तैयारियों का जायजा लिया एवं उम्मीदवारों के लिए फीडबैक लिया।