किसान मेला आयोजित

गौरव सिंघल, सहारनपुर। कृषि सूचना तंत्र के सुदृढिकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद स्तरीय रबी उत्पादकता गोष्ठी एवं किसान मेले का आयोजन जनमंच सभागार में किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष  मांगेराम चौधरी तथा विधायक रामपुर मनिहारान देवेन्द्र निम द्वारा किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न संस्थाओं वन एवं जीव विभाग, गन्ना विकास विभाग, सोलर पम्प, पशुपालन विभाग, कृषि विभाग, उद्यान विभाग, रेशम विभाग, इफको, प्रधानमंत्री फसल बीमा, अडामा कम्पनी पेस्टीसाइड, सिन्जेन्टा मेक्स वेज कम्पनी, दयाल फर्टिलाईजर, पी0एन0बी0 मल्टीप्लैक्स कर्नाटक आदि द्वारा अपने स्टॉल लगाकर विभिन्न गतिविधियों को प्रदर्शित किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि  मांगेराम चौधरी द्वारा जैविक खेती अपनाने पर बल दिया। कृषकों से अपील की फसल चक्र अपनाये तथा हरि खाद का प्रयोग करें, इससे गुणवत्तायुक्त उत्पादन प्राप्त होगा। सरकार द्वारा जैविक खेती पर बल दिया जा रहा है तथा अनुदान की सुविधा भी उपलब्ध करायी जा रही है। विधायक रामपुर मनिहारान देवेन्द्र निम द्वारा कृषकों के हित में चलायी जा रही योजनाओं से लाभ उठाने का आह्वान किया। प्रदेश सरकार द्वारा कृषि को महत्व देते हुए कृषि यंत्रों, सोलर पम्प, जैविक खेती आदि पर अनुदान दिया जा रहा है। सभी बीजों पर 50 प्रतिशत अनुदान किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है। अनेक विभागों द्वारा संचालित अनुदानित योजनाओं का किसान लाभ उठाये तथा विविधिकरण अपनाकर अपनी आय में वृद्धि करें। मुख्य विकास अधिकारी विजय कुमार द्वारा कृषकों से अनुरोध किया कि संतुलित उर्वरकों का ही प्रयोग करें, असंतुलित उर्वरकों के प्रयोग से उत्पादकता प्रभावित होती है। बीज शोधन करके ही बुवाई करें। रसायनों के अन्धाधुन्ध प्रयोग को हतोत्साहित करें तथा लागत कम करने के लिए संतुलित उर्वरकों एवं कृषि रक्षा रसायनों के उचित उपयोग पर बल दिया। चीप बर्ड विधि से गन्ने की बुवाई-रोपाई करें। डा. विरेन्द्र कुमार, वैज्ञानिक द्वारा गेहूं की फसल में लगने वाली बीमारियों व कीटों के बारे में विस्तार से जानकारी दी तथा उर्वरक प्रबंधन के बारे में विस्तार से बताया। 

उप कृषि निदेशक डा. राकेश कुमार, द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित समस्त योजनाओं की विस्तार से जानकारी तथा समूह गठन पर बल देते हुए बताया कि समूह/एफ0पी0ओ0 के माध्यम से सरकार कृषि यंत्र खरीदने पर अनुदान उपलब्ध करा रही है। किसान भाई अनुदान पर प्रमाणित/आधारिय उन्नत बीज, बीज भण्डार से प्राप्त कर उसकी बुवाई करें। कार्यक्रम का संचालन श्री यशवीर सिंह सैनी, सेवानिवृत्त उप परियोजना निदेशक द्वारा किया गया। इस अवसर पर कृषि रक्षा पवन कुमार विश्वकर्मा, जिला कृषि अधिकारी श्री धीरज कुमार सिंह, जिला कृषि रक्षा अधिकारी श्रीमति शिप्रा, जिला उद्यान अधिकारी अरूण कुमार, डॉ वीरेन्द्र कुमार, डॉ मनोज सिंह, डॉ रविन्द्र सिंह तोमर, डॉ शालिनी सिंह वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केन्द्र, यशवीर सिंह सैनी,  भूपेन्द्र मलिक, रविन्द्र बर्नवाल, यशपाल सिंह (गन्ना विभाग) आदि उपस्थित रहे।