शिक्षण संस्थानों में लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई

गौरव सिंघल, देवबंद। शिक्षण संस्थानों में कार्यक्रम का आयोजन कर लौह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाई गई। इस दौरान छात्र-छात्राओं ने रैली निकालकर परस्पर एकता, प्रेम व भाईचारे का संदेश दिया। देवबंद नगर के रेलवे रोड स्थित दि दून वैली पब्लिक स्कूल में एसडीएम संजीव कुमार ने फीता काटकर व हरी झंडी दिखाकर रैली का शुभारंभ किया। 

एसडीएम ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश के विभिन्न राज्यों को एक साथ लाने के लिए अथक प्रयास किए थे। चेयरमैन राजकिशोर गुप्ता ने कहा कि राष्ट्रीय एकता दिवस हमें शांति, सौहार्द एवं बंधुत्व की भावना के साथ रहने की प्रेरणा देता है। प्रधानाचार्य सीमा शर्मा ने भी विचार रखे। श्री रामकृष्ण योगाश्रम इंटर कॉलेज में भाषण प्रतियोगिता का आयोजन हुआ। प्रधानाचार्य अरूण गोयल, राधेश्याम राणा व ममता वर्मा ने छात्रों को अखंड भारत को एकता के सूत्र में बांधने का संकल्प दिलाया। राष्ट्रीय एकता दौड़ रैली को प्रधानाचार्य ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस मौके पर तरूणा, मोनिका, माधुरी, गरिमा, प्रियांशु, अभिषेक व कुणाल कोहली आदि मौजूद रहे। 

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्राचार्य डा. गौरव बालियान ने कहा कि सरदार वल्लभ भाई पटेल की दूरदर्शिता और कूटनीति की बदौलत बहुत सारी रियासतों का भारत में विलय हुआ और भारत मजबूत राष्ट्र बना। रन फॉर यूनिटी में छात्रों ने उत्साह से भाग लिया। इस दौरान सरदार पटेल के जीवन से संबंधित प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया साथ ही छात्रों को राष्ट्रीय एकता की शपथ दिलाई गई।