नगर पालिका के अधिकारियों की घोर लापरवाही के चलते देवबंद नगर में विकास कार्य ठप्प

गौरव सिंघल, देवबंद। भारतीय जनता पार्टी के पूर्व नगर अध्यक्ष व सभासद गजराज सिंह राणा ने कहा कि नगर पालिका के अधिकारियों की घोर लापरवाही के चलते जहां नगर में विकास कार्य ठप्प पड़े हैं, वही पानी बिजली सफाई व्यवस्था भी चौपट हो गई है। नगर में सफाई व्यवस्था चौपट होने से मच्छरों का प्रभाव बढ़ने से बीमारियां बढ रही है। सभासद गजराज सिंह राणा ने कड़ा रोष प्रकट करते हुए कहा है कि नगर पालिका के अधिकारी और चेयरमैन आंखें मूंदे बैठे हैं। नगर में पानी, बिजली तथा सफाई व्यवस्था कतई चौपट हो चुकी है। जनता के लगातार शिकायत करने के बावजूद भी नगर पालिका में कोई सुनने वाला नहीं है। 

उन्होंने कहा की इस मौसम में बढ़ते मच्छरों के कारण बुखार सहित कई बीमारियां फैली हुई है, जिसके कारण जनता परेशान हैं। उन्होने कहा कि नगर पालिका प्रशासन के पास ऐसे समय में कीटनाशक का छिडकाव तथा फोगिंग आदि कराने के लिए जिम्मेदारियां बनती हैं, मगर नगरपालिका के अधिकारी अपनी जिम्मेदारियों से विमुख है। इस समय चिकित्सकों के यहां मरीजों की लगातार भीड़ बढ़ती जा रही है, परंतु इसके बाद भी नगर पालिका को नगर में फोगिंग कराने या मच्छरों को मारने के लिए कीटनाशक का छिड़काव कराने की आवश्यकता महसूस नहीं हो रही है। 

भाजपा नेता तथा सभासद गजराज सिंह राणा ने इस बात पर कडा अफसोस जताया है कि नगर पालिका के भाजपा सभासद भी नगर की खुशहाली के लिए बोलने को तैयार नहीं है यही वजह है कि नगर की सड़कों और गलियों का बुरा हाल है, रेलवे रोड में गहरे गहरे गड्ढे बने पड़े हैं, सफाई व्यवस्थां छिन्न-भिन्न होने के चलतें नालों में गंदगी भरी हुई है, गलियों में नालियां साफ हुए भी कई-कई दिन हो जाते है, इसके अलावा नजर में स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था भी छिन्न-भिन्न हो चुकी है, कई गलियों में कई-कई लाइटें लगी हैं तो कई गलियों में अंधेरा ही छाया रहता है। जलकल विभाग भी नगर वासियों के प्रति अपने कर्तव्य से विमुख है, त्योहारों के समय में भी पानी की उपलब्धता पर्याप्त मात्रा में नहीं होती है। जनता पूर्व के चुनाव में दी गई सभासदों की वोटों को लेकर अपनी किस्मत को कोस रही हैं। भाजपा नेता गजराज राणा ने कहा कि यदि तुरंत ही नगर में बिजली, पानी, सफाई और फोगिंग व कीटनाशक दवाइयों का छिड़काव कराने की व्यवस्था नगर पालिका द्वारा नहीं की गई तो आंदोलन करने की ओर अग्रसर होना पड़ेगा।