मेयर ने पूर्व नगरायुक्त पर लगाए लाखों के हेराफेरी के आरोप

गौरव सिंघल, सहारनपुर। नगर निगम की कार्यसमिति की बैठक में निगम द्वारा मरम्मतनिर्माण और रंगाई-पुताई एवं अन्य कार्यों में लाखों की धांधली होने के आरोप लगाए हैं। स्वयं मेयर संजीव वालिया ने बैठक में कहा कि पूर्व नगरायुक्त ज्ञानेंद्र सिंह ने तीन करोड़ साठ लाख के काम कराए जिनमें पहली ही नजर में 35 लाख रूपए की धांधली सामने आई है। 

नगर निगम की ओर से शासन को पत्र भेजकर इस रकम की वसूली की मांग का पत्र भेजा जा रहा है। मेयर संजीव वालिया ने कहा कि पूर्व नगरायुक्त ने अपने खास ठेकेदारों के जरिए निगम में जबरदस्त धांधली की। पार्षदों ने भी निगम में हो रही धांधलियों को उठाया। पार्षद आशुतोष सहगलपार्षद टिंकू अरोड़ा ने आरोप लगाए कि निगम में एक मृतक आश्रित को नौकरी देने के मामले में सात लाख रूपए की अवैध रकम वसूली गई। मेयर संजीव वालिया ने बेहट रोड़ स्थित प्राचीन रामलीला कमेटी को लीज पर दी गई जमीन की अवधि बढ़ाने के निर्देश दिए। बैठक में नगरायुक्त गजल भारद्वाज, पार्षद अनिल कुमार, फैजाद मलिक, प्रदीप सिंह, मीनाक्षी आदि शामिल रहे।