आयुष्मान कार्ड बनाने और इलाज कराने में शामली राज्य में फिर टाॅप पर

शि.वा.ब्यूरो, शामली प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) में गोल्डन कार्ड बनाने में शासन स्तर से हुई रैंकिंग में जनपद ने राज्य में एक बार फिर पहला स्थान प्राप्त किया है। जनपद में आयुष्मान योजना के तहत 79517 कार्ड बनाए गए है, जबकि इलाज कराने में पहले से  ही प्रथम स्थान पर है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संजय अग्रवाल ने बताया कि शासन स्तर से हाल ही में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (आयुष्मान भारत) में गोल्डन कार्ड बनाने की जनपदवार रैंकिंग हुई है। इस रैंकिंग में जनपद शामली को एक बार फिर राज्य में पहला स्थान मिला है। नोडल अधिकारी डॉ. राजकुमार सागर ने बताया कि जनपद में आयुष्मान भारत योजना के अन्तर्गत कुल 79517 परिवारों के 2.96 लाख सदस्य आच्छादित है, जिसके सापेक्ष 53684 परिवारों के 1.33 लाख सदस्यों के आयुष्मान कार्ड बनाये जा चुके है। 
उन्होंने अवगत कराया कि जनपद आयुष्मान कार्ड बनाए जाने और आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का इलाज कराने में राज्य में प्रथम स्थान पर है। उन्होंने कहा जनपद के समस्त लाभार्थियों के शत प्रतिशत आयुष्मान कार्ड बनाये जाने के लिए निरन्तर प्रयास जारी है। समय-समय पर आयुष्मान कार्ड बनाये जाने के लिए विशेष शिविरों का भी आयोजन किया जा रहा है। वैभव गुप्ता ने बताया कि जिले में 14 प्राइवेट व सात सरकारी अस्पताल योजना से आबद्ध हैं।
बता दें कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत पात्र लोग मुफ्त में अपना इलाज करवा सकते हैं। इसमें पांच लाख रुपये तक का इलाज मुफ्त में करवाया जा सकता है। कोरोना समेत कई तरह की अन्य बीमारियां इसमें कवर हैं, जिसके कारण गरीब लोगों को काफी सहायता मिल रही है।