एसडी कालेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टैक्नोलोजी के तत्वाधान में महिला साक्षरता अभियान चलाया
शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। एसडी कालेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टैक्नोलोजी द्वारा विश्व साक्षरता दिवस के उपलक्ष में शिक्षा के महत्व को दर्शाने और निरक्षरता को समाप्त करने के उददेश्य से गाँव बहादरपुर के खेड़ी-विरान में महिला साक्षरता अभियान चलाया गया। इस अभियान का मुख्य उददेश्य गाँव के घर घर की महिलाओं को शिक्षा के महत्व को समझाना तथा उन्हे जागरूक करना था।
महिला साक्षरता अभियान के अन्र्तगत एसडी कालेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टैक्नोलोजी की महिला अध्यापिकाओं डा0 प्रगति शर्मा, पारूल गुप्ता व शिवानी कौशिक द्वारा गाँव की बुजुर्ग महिलाओं को इस बात का एहसास कराया गया कि शिक्षा प्राप्त करने की कोई उम्र नही होती है। साक्षर बनाने की दिशा में एक पहल करते हुये समस्त महिलाओं व बालिकाओं को गल्र्स स्टूडेंट वोलेन्टियर्स द्वारा उनका नाम लिखना सिखाया गया। इस अवसर पर सभी को कापी और पेन वितरित किये गये तथा जिसमें उन्हे उनके लिखे हुये नाम का सतत प्रयास करने को कहा गया। इस अवसर पर यह बताने का प्रयास किया गया कि साक्षरता एक अधिकार है जो हर जाति, वर्ग, अमीर, गरीब, ग्रामीण, शहरी को मिलना चाहिये। इस दिशा में सरकार के द्वारा शिक्षा के लिये चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं से भी उन्हे अवगत कराया गया।
एसडी कालेज आॅफ इंजीनियरिंग एण्ड टैक्नोलोजी द्वारा किया गया यह प्रयास गाँव के लोगों द्वारा काफी सराहा गया तथा भविष्य में भी ऐसे कार्यक्रमों में भाग लेने का गाँव वालों ने आश्वासन दिया। कार्यक्रम के अंत में सभी महिलाओं और बच्चों को चिप्स, बिस्कुट वितरित किये गये। अभियान को सुचारू रूप से सम्पन्न कराने में वरिशा खान, प्रियांशी गुप्ता, नीशू कुमारी, अनुष्का त्यागी, गोपाल, जोगेन्द्र आदि का प्रमुख योगदान रहा।