आत्मा अधिशासी निकाय की बैठक आयोजित
शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। कृषि तकनीकी प्रबंध अभिकरण (आत्मा) अधिशासी निकाय की बैठक कलेक्ट्रेट स्थित लोकवाणी सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में परियोजना निदेशक व उप कृषि निदेशक आरपी चौधरी द्वारा बोर्ड के समक्ष वर्ष 2020 में आल्हा योजनांर्तगत कराए गए कार्यों का विवरण प्रस्तुत करते हुए सदन को अवगत कराया। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी चन्द्रभूषण सिंह ने निर्देश दिए कि समस्त कार्य गुणवत्तापूर्ण रूप से कराया जाए, ताकि काय कृषक उपयोगी हो सके। उन्होंने कहा कि सहयोगी कृषको के माध्यम से कृषि तथा समस्त कृषि सहयोगी विभागों के कार्यों का प्रचार प्रसार किया जाए, इस हेतु सहयोगी कृषको को प्रशिक्षित किया जाए। इसके साथ ही कार्यों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए, इस हेतु समस्त कार्यक्रमों के कोआर्डिनेट सहित फोटोग्राफ व वीडियोग्राफी भी कराई जाए। उन्होंने कहा कि सभी कार्यक्रमों का आयोजन समय से कराया जाए और योजना अंतर्गत कृषको का और शिक्षा विवरण (एक्सपोजर विजिट) कृषको को की मांग के अनुसार प्रतिष्ठित संस्थानों पर कराया जाए, ताकि कृषक देखकर सीखकर तकनीकी अपनाएं तथा अपनी आमदनी बढ़ाएं, साथ ही दूसरे कृषक भी उसका अनुकरण कर तकनीकी का लाभ उठा सकें। बैठक में प्रगतिशील कृषक अरविन्द मलिक ने गन्ने के साथ सहफसली खेती रई, सरसों, चना, मसूर के बीजों की समय से उपलब्धता की मांग रखी, जिस पर जसवीर तेवतिया द्वारा बताया गया कि सरसो का बीज प्राप्त हो गया। शेष बीजों की व्यवस्था भी कर ली जायेगी। बैठक में कृषि रक्षा अधिकारी, भूमि संरक्षण अधिकारी, जिला गन्ना अधिकारी, कृषि वैज्ञानिक, कृषि विज्ञान केंद्र बघरा, मत्स्य अधिकारी, जिला विकास प्रबंधक नाबार्ड, मंडी तथा उद्यान अधिकारी के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।