हुर्रे! बिजनौर मंडल महालोगिन में बरेली परिमंडल में फिर सैकिंड

शि.वा.ब्यूरो, बिजनौर। डाक अधीक्षक राधेश्याम शर्मा मंडल के सभी श्रेणी के कर्मचारियों का तहे दिल से आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि जिनके अथक प्रयासों से और अनवरत 12 am से 12 pm तक काम करने से 14 सितंबर को महालोगिन में बिजनौर मंडल को परिमंडल मे IPPB के खाते खोलने में द्वितीय स्थान हासिल हुआ है, वे सभी धन्यवाद के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में यह असंभव एवं महान उपलब्धि सभी की मेहनत, लगन, इच्छा शक्ति एवम टीम भावना से कार्य करने का परिणाम है। डाक अधीक्षक ने बताया कि PMG  एवं RO के सहायक निदेशकों ने बिजनौर मंडल को इस उपलब्धि पर बधाई दी है।

डाक अधीक्षक ने कहा कि मैं उन शतक वीर अर्द्धशतक वीरो का आभार प्रकट करता हूँ, जिन्होंने प्रतिस्पर्धा से काम किया व एक-दूसरे से आगे निकलने की कोशिश की, जिससे मंडल 100%  से भी अधिक लक्ष्य की पूर्ति कर सका। उन्होंने कहा कि पूरे दिन कर्मचारियों के उत्साह वर्धन में उन ASP, SDI, मेलओवरसीयर, DO मॉनिटरिंग टीम व मैनेजर IPPB के बहुमूल्य योगदान को भी भुलाया नहीं जा सकता, जिन्होंने प्रत्येक BPM, ABPM, पत्र वाहक एन्ड यूजर PM/SPM को 3 दिन से लगातार संपर्क करके उनका उत्साह वर्धन किया।

डाक अधीक्षक राधेश्याम शर्मा ने बिजनौर मंडल की टीम का उत्साहवर्धन करते हुए कहा कि आपको यहां रुक नही जाना है, हमे आगे बढ़ते जाना है। श्री शर्मा ने आशा व्यक्त की कि आगे भविष्य में भी जरुरत पडने पर सभी इसी प्रकार से सहयोग करते रहेगे। उन्होंने कहा कि जो कर्मचारी कल शतक बनाने से चूक गये है, वे आगे कभी भी शतक बना सकते है।

बता दें कि विगत दिनों पुरे देश में नंबर वन आने वाले कल्लूवाला के शाखा डाकपाल सोनवीर ने इस बार भी 4500/- के AEPS transaction सहित 141 IPPB के नये खाते खोले हैं, जिनमें 14100 की धनराशि जमा कराई गई है। इसके साथ ही सोनवीर ने अबतक सुकन्या समृद्धि योजना के 22 खाते खुलवा चुके हैं।