बकाया गन्ना भुगतान की मांग को लेकर भाकियू ने जोरदार प्रदर्शन

ओपी जैन, राहुल नोसरान, नागल। भाकियू के राष्ट्रीय आह्वान पर गन्ना बकाया भुगतान की मांग को लेकर भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष विनय कुमार के नेतृत्व में किसानों नें जोरदार प्रदर्शन करते हुए धरना दिया। इस दौरान किसानों नें बजाज शुगर मिल के यूनिट हैड तथा गन्ना महा प्रबंधक को अपने बीच बैठाए रखा। अगस्त माह में 15 जनवरी तक का भुगतान किए जाने के आश्वासन के बाद धरना समाप्त करने की घोषणा की गई। किसानों नें दो सूत्रीय जिलाधिकारी को संबोधित एक मांग पत्र क्षेत्राधिकारी पुलिस देवबंद को भी सौंपा। 

भाकियू के प्रदेश उपाध्यक्ष चौधरी विनय कुमार नें कहा कि सरकार किसानों व मजदूरों का शोषण कर रही है तथा सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार किसानों के गन्ने का भुगतान 14 दिन में कराने में असफल रही है। किसानों का बजाज शुगर मिल गांगनोली पर करीब 195 करोड रुपए बकाया है, जिसके चलते किसान आर्थिक रूप से टूट चुका है। किसान की समस्या को कोई सुनने वाला नहीं है। 

करीब तीन घंटे चले थाने गेट पर धरने के बीच पहुंचे बजाज शुगर मिल यूनिट हेड यशराज सिंह तथा गन्ना महाप्रबंधक वीके चौहान को भी किसानों नें अपने बीच बैठा लिया तथा ब्याज सहित बकाया पूरा भुगतान किए जाने की मांग पर अड़े रहे। 

नागल थानाध्यक्ष जितेद्र कुमार तथा वरिष्ठ उपनिरीक्षक देवबंद सत्येंद्र राय की मध्यस्थता के बाद 15 जनवरी तक का भुगतान इसी माह दिए जाने की घोषणा पर किसान सहमत हुए, जिसकी यूनिट हेड यशराज सिंह नें किसानों के बीच पहुंचकर घोषणा की। किसानों नें जिलाधिकारी को संबोधित एक ज्ञापन सीओ देवबंद रजनीश कुमार उपाध्याय को सौंपते हुए धरना समाप्त करने की घोषणा कर दी।

इस दौरान संगठन के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य स. मनमोहन सिंह, मा. रणबीर सिंह, योगेंद्र पप्पू, राजपाल सिंह पनियाली नें भी अपने विचार रखे। इस दौरान जिलाध्यक्ष चरण सिंह, नरेश स्वामी, मुकेश तोमर, कान सिंह राणा, ईश्वर चंद, अरुण राणा,  विनोद खन्ना, सुरेश त्यागी, अनिल राणा, भूरा, अमित, भूपेंद्र त्यागी, जगदीश वालिया, सुमित चौधरी, आलोक कुमार, असलम, राशिद, अमजद, अभिलाष, कुशल पाल राणा, पिरथी सिंह, अमित मुखिया, रुपेश त्यागी* सहित सैकड़ों किसान मौजूद रहे।