सरदार सतनाम सिंह हँसपाल व सरदार गुरुप्रीत सिंह सिडाना को सिख रत्न से सम्मानित किया

शि.वा.ब्यूरो, खतौली। श्री गुरु सिंह सभा (रजि.)  में छठी पातशाही मीरी पीरी के मालिक श्री गुरु हरगोबिंद साहिब जी का प्रकाश पर्व सोशल डिस्टेंस का संगतों द्वारा पालन करते हुये गुरुबाणी कीर्त्तन करके मनाया गया। इस अवसर पर लॉकडाऊन में सेनिटाईज, जरूरतमंदों तक लंगर एवं सुखा राशन, जल सेवा के लिये सरदार सतनाम सिंह हँसपाल एवं सरदार गुरुप्रीत सिंह सिडाना जी को सिख रत्न व गुरु घर के सर्वोच्च सम्मान सरौपओ एवं गुरु जी का प्रतीक चिन्ह (फोटो) से गुरुद्वारा प्रबन्धक कैमेटी द्वारा सम्मानित किया गया।


स्टेज सक्रेट्री सतनाम सिंह ने कहा कि जब लोग अपनी जान बचाने के लिये घरो मे परिवार के साथ रह रहे थे, तब इन सिख समाज के सेवादारों द्वारा अपनी ओर अपने परीवार की जान की परवाह किये बैगर जरूरतमंदों को भोजन एवं नगर को सेनिटाईज कराने मे प्रशासन की हर संभव मदद की। ये हमारे सिख समाज के रत्न है, आज इनको सिख रत्न के सम्मान से नवाजा गया है।


स्टेज सक्रेट्री ने बताया कि 9 बजे ज्ञानी हरभजन सिंह जी ने अरदास की उपरांत गुरु का लंगर के पैकिट बनाकर घर के लिये संगतों को बाटें गये। गुरु घर मे सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुये संगते आई और मथ्था टेक कर गुरु घर खुशियां प्राप्त की। इस अवसर पर महासचिव सरदार सतपाल सिंह, कोषाध्यक्ष सरदार जसबीर सिंह, शिव मूर्ति प्रधान राजेन्दर तनेजा, वीरभान अरोरा, समाजसेवी मदन छाबड़ा, प्रबंधक मोक्ष धाम समिति राम सिंह सैनी, संत रुद्रदेव सिंह, बॉबी पंडत जी, सरदार गुरुमीत सिंह, सरदार जोगिंदर सिंह सलूजा, आदेश बहन जी, उषा बहन जी आदि मुख्य रूप से उपस्थित रहे।