हमले के विरोध में पत्रकारों ने एडीजी जोन को सौंपा ज्ञापन, कार्यवाही की मांग


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। पहली बार जनपद एडीजी मेरठ जोन राजीव सब्बरवाल ने पुलिस लाइन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए एसएसपी अभिषेक यादव और उनकी पूरी टीम की जमकर तारीफ की। प्रेसवार्ता के दौरान पत्रकार पर हमले के आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने सहित कड़ी कार्यवाही की मांग को लेकर पत्रकारों ने एडीजी जोन को ज्ञापन भी सौंपा।
बता दें कि मेरठ जोन का पदभार सम्भालने के बाद एडीजी जोन राजीव सब्बरवाल पहली बार जनपद में पधारे थे। जनपद आगमन पर मेरठ जोन के अपर पुलिस महानिदेशक को पुलिस लाइन में सलामी दी गयी। श्री सब्बरवाल ने जनपद पुलिस की व्यवस्था की सराहना करते हुए कहा कि युवा अभिषेक यादव के नेतृत्व में जनपद पुलिस बेहतर कार्य कर रही है। बता दें कि श्री सब्बरवाल जनपद में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पद तैनात रह चुके हैं।



ज्ञापन को प्राप्त करते हुए एसएसपी अभिषेक यादव ने पत्रकारों के साथ पूरा न्याय करने का आश्वासन देते हुए पीड़ित पत्रकार ऋषिपाल सिंह से मुलाकात करने को भी कहा। हिन्द दर्शन के सम्पादक ऋषिपाल सिंह की माने तो सिविल लाईन्स थानाध्यक्ष को उन्होंने तहरीर दी थी, लेकिन अभी तक दोषियों के खिलाफ कोई कार्यवाही तो दूर एफआईआर तक दर्ज नहीं की गयी है। उन्होंने बताया कि उनके प्रार्थना पत्र पर सीओ सिटी ने भी एफआईआर दर्ज करके कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये थे, लेकिन थानेदार उनसे फोन पर बार-बार मिलने का निर्देश तो दे रहे हैं, लेकिन कोई कार्यवाही नहीं कर रहे हैं। पीड़ित पत्रकार ने एसओ सिविल लाईन्स द्वारा मिलने के लिए बुलाने के प्रत्युत्तर में स्पष्ट कहा है कि पहले एफआईआर, बाद में मुलाकात।



पीड़ित पत्रकार ने आशंका व्यक्त की है कि शायद सिविल लाईन्स पुलिस आरोपियों के दबाव में काम कर रही है, क्योंकि आरोपी दबंग व साधन सम्पन्न हैं। थानाध्यक्ष सम्भवतः उन्हें बुलाकर समझौते का दबाव बनाना चाह रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे ड्रग माफियाओं के खिलाफ अपनी लड़ाई जारी रखेंगे।
बता दें कि दवाई के कारोबार की आड़ में प्रतिबन्धित नशे का का धंधा करने वालों को बेनकाब करने की मुहिम से छटपटाये कथित माफियाओं द्वारा जिला परिषद में हिंद दर्शन समाचार पत्र के संपादक तथा वरिष्ठ पत्रकार ऋषिपाल सिंह व उनके हॉकर पर उस समय हमला कर दिया था, जब हाॅकर समाचार पत्र का वितरण कर रहा था।