एसडी कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी में अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने व बचाव के लिये गुरूमन्त्र दिये गये


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। एसडी कालेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टैक्नोलोजी में कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिये योग द्वारा अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने व बचाव के लिये इंडियन इंस्ट्टीयट ऑफ योगा एंड नेचुरोपैथी के संस्थापक डा0 एमके तनेजा एवं महामृत्युन्जय मिशन के संस्थापक संजीव शंकर द्वारा संस्थान में कार्यरत स्टाफ को गुरूमन्त्र दिये गये। शिक्षकों को लिखित सामग्री भी दी गई। डा0 तनेजा ने बताया कि श्वास और प्रश्वास की गति को अलग-अलग करके प्राणायाम सिद्व हो जाता है, जो कि हमें आनन्दायी बनाता है। भ्रामरी प्राणायाम करने से खेचरी मुद्रा में लगभग 77 से 203 बिमारीयाँ तक स्वतः ही ठीक हो जाती है। यह प्राणायाम व्यक्ति के मन को शांत करने में अति सक्ष्म है। भ्रामरी प्राणायम के अभ्यास से आप क्रोध, चिन्ता और निराशा से राहत पा सकते है। अगर आपको हाइपरटेंशन के शिकायत हो तो आपको ये प्राणायम अवश्य करना चाहिये। डा0 तनेजा ने भ्रामरी प्राणायम करने के तरीके को विस्तार से समझाया।    


  
इस अवसर पर संस्थान के अधिशासी निदेशक प्रो0 (डा0) एसएन चौहान ने कहा कि इम्यूनिटी को बढ़़ाना एवं उसे बरकरार रखना सभी के लिये आवश्यक है, जिसे एक विशेष प्रक्रिया एवं समझ से बढ़ाया जा सकता है। शरीर और आत्मा अलग-अलग विषय है और दोनों की आवश्यकताऐं भी अलग है। शरीर का सुख सुविधा एवं पौष्टिक खानपान की आवश्यकता होती है तो आत्मा को पवित्रता, सद्भाव, अहिंसा, प्रेम, करूणा, सकारात्मकता चाहिये। डा0 चौहान ने कहा किजब शरीर और आत्मा की खुराक संतुलित एवं पुष्ठ होती है तो इम्यूनिटी स्वंय बढ़ जाती है और रोगों से लड़ने की क्षमता भी बढ़ जाती है। अतः हमें सम्यक विचार एवं सम्यक खानपान पर ध्यान देना चाहिये। कोविड-19 के कारण सैदव उचित दूरी एवं मास्क का प्रयोग करना चाहिये। 



संस्थान के प्राचार्य डा0 एके गौतम ने कहा कि योग सही तरीके से जीने का विज्ञान है, इसलिये इसे दैनिक जीवन में शामिल किया जाना चाहिये। योग हमारे जीवन से जुड़े भौतिक, मानसिक, भावनात्मक, आत्मिक और आध्यात्मिक सभी पहलुओं पर कार्य करता है।
संस्थान के इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग द्वारा करियर एंड अपोरच्यूनिटीज इन इलैक्ट्रानिक्स इंजीनियरिंग विषय पर वेबीनार का भी आयोजन किया गया, जिसमें विभिन्न स्थानों के 12वीं, बीटेक, एमटेक के छात्र-छात्राओं, शिक्षकों व इंडस्ट्री प्राफेशनल्स आदि ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता विशाल त्यागी (एम्बेडिड साॅल्यूशन्स हेड, सन मोबिलिटि प्रा0वि0, बैंगलूरू) व एल्युमनि वक्ता गौरव कंसल, वरूण त्यागी, विनय कुमार, अनिरूद्ध शर्मा, अरविन्द सिंह, मिस नेहा व मिस प्रिया रहे। सभी ने अलग-अलग विषयों व अवसरों के प्रतिभागीयों की जानकारी दी। ऑयल एंड गैस, स्टार्टअप, ऑटोमेशन, चिप डिजाइनिंग, हार्डवेयर व प्रोग्रामिंग आदि विषयों से प्रतिभागियों को लाभान्वित किया। वेबीनार अयोजित करने में अमित चौहान, सचिन संगल व पारूल गुप्ता का योगदान रहा। इलेक्ट्रानिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग की विभागाध्यक्ष डा0 प्रगति शर्मा ने सभी को धन्यवाद दिया और वक्ताओं का आभार व्यक्त किया। सफल प्रतिभागियों को सर्टिफिकेट वितरित किये गये।