एक समय में पांच लोग ही मस्जिद में अदा कर सकेंगे नमाज


शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। इबादतगाहों के खोलने को लेकर उलमा की जिलाधिकारी के साथ बैठक हुई। इसमें एक समय में मस्जिद में पांच नमाजी ही नमाज अदा कर पाएंगे। वहीं, मौलाना खालिद रशीद ने कहा कि जुमे की नमाज को लेकर मस्जिदों को गाइडलाइन जारी की जाएगी। इसमें एक मस्जिद में जुमे की पांच-पांच जमातें कराई जा सकती है। इससे अधिक लोग नमाज अदा कर पाएंगे लेकिन प्रशासन को ख्याल रखना होगा कि मस्जिद के आगे भीड़ न लगे।
मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बताया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया की ओर से पहले ही 16 बिन्दुओं के दिशा निर्देश मस्जिदों को जारी किए गए हैं। मौलाना ने कहा कि जिलाधिकारी के साथ हुई बैठक में भी उन्हीं बिन्दुओं को रखा गया। प्रशासन के निर्देशों के अनुसार मस्जिद में एक समय में 5 लोग ही नमाज अदा कर सकते हैं।
मौलाना ने कहा कि संक्रमण से बचने के लिए सरकार की ओर से यह कदम उठाए गए हैं। हमें इन नियमों का पालन करना चाहिए। माहौल बेहतर होने पर नियमों में छूट भी दी जाएगी। मौलाना ने कहा कि खासकर जुमे की नमाज में इमाम चाहे तो पांच या उससे अधिक जमातें पढ़ा सकता है। उन्होंने कि जिला प्रशासन की ओर से इबादतगाहों को लेकर विस्तृत गाइडलाइन भी जारी की जाएगी।