पलायन कर रहे प्रवासी मजदूरों को भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत, धर्मेंद्र मलिक ने बिजनौर बैराज पहुच कर मदद करायी


शि.वा.ब्यूरो, मुजफ्फरनगर। पलायन कर रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए राकेश टिकैत प्रदेश अध्यक्ष चौधरी दिगंबर सिंह व राष्ट्रीय मिडिया प्रभारी चौ.धर्मेन्द्र मलिक मसीहा बनकर उभरे हैं। उन्होंने जरुरतमंद मजदूरों की समस्याओं का समाधान कराया और उपजिलाधिकारी से बात करके सूची बनवाकर बसों की व्यवस्था करायी, इतना ही नहीं मजदूरो की साइकिल को भी बसों के ऊपर रखने की व्यवस्था करायी।
बता दें कि लॉकडाउन के चलते उद्योग धंधे बंद होने मजदूरों का पलायन जारी है। कोई मजदूर पैदल, तो कोई साइकिल से, तो कोई ट्रकों में भरकर घरों की तरफ पलायन कर रहा है। मजबूर मजदूरों की इन तस्वीरों से हर कोई विचलित है। भारतीय किसान यूनियन पलायन कर रहे श्रमिकों को खाना-पानी उपलब्ध कराने से लेकर अपने ट्रैक्टर से उनको आश्रय स्थल पहुचाने के साथ ही आर्थिक मदद, कपड़े व चप्पल तक उपलब्ध करवा रहीं हैं।



भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी राकेश टिकैत ने कार्यकर्ताओं से कहा है कि मजदूर जहाँ जहाँ सड़कों पर पैदल चल रहे हैं, वहा भाकियू कार्यकर्ता उनकी हर वह मदद करे, ताकि श्रमिक सड़कों पर पैदल न चलें। भाकियू द्वारा जगह-जगह श्रमिकों के लिए कैंप लगाकर खाने-पीने का सामान और कपड़े आदि दिए जा रहे हैं।
दिगंबर सिंह ने बताया कि प्रशासन के पास मजदूूरों को ले जाने के लिए वाहनों की कमी होने के कारण भाकियू के कार्यकर्ता मजदूरों को ट्रैक्टर ट्राली से दूसरे जिले की सीमा तक छोड़ रहे हैं। वहां से दूसरे जिलों के कार्यकर्ता इन मजदूरों को आगे छोड़ेंगे। चौधरी दिगंबर सिंह ने कहा पलायन सियासत के चेहरे पर एक बदनुमा दाग है। नोटबंदी से लेकर लॉकडाउन तक मोदी शासन का प्रत्येक निर्णय गरीब वर्ग के लिए त्रासदीपूर्ण साबित हुआ है। नफरत की राजनीति भी चरम पर है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक गिद्ध मजदूरों के दुखदाई पलायन पर भी मौन हैं, यह देश का दुर्भाग्य है।



इस अवसर पर अतुल कुमार राजवीर काकरान अंकित कुमार दीपक तोमर विनीत मौर्य आदि उपस्थित रहे।