किसान दिवस के रूप में मनाई चौधरी चरण सिंह की जयंती (शिक्षा वाहिनी समाचार पत्र के वर्ष 13, अंक संख्या-22, 24 दिसम्बर 2016 में प्रकाशित लेख का पुनः प्रकाशन)


शि.वा.ब्यूरो, लखनऊ। राज्य विधानसभा के चुनावी मुहाने पर खडे उत्तर प्रदेश में आज किसानो के मसीहा कहे जाने वाले पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की 115वीं जयन्ती राजनीतिक दलो ने किसान सम्मान दिवस के रुप में मनाया। सत्तारुढ समाजवादी पार्टी (सपा) ने किसानो के मसीहा के रुप में चिरपरिचित रहे दिवंगत चौधरी चरण सिंह की जयन्ती पर कई कार्यक्रम आयोजित किये। जिला मुख्यालयों पर गोष्ठियां आयोजित हुई और किसानो से सम्पर्क साध कर कार्यकर्ता उनकी कठिनाईयों से रु-बरु हुये। पार्टी के प्रदेश कार्यालय में भी चौधरी चरण सिंह को श्रआंजलि अर्पित की गयी। सपा के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने इटावा में पूर्व प्रधानमंत्री को श्रआंजलि अर्पित करते हुए कहा कि देश के विकास का रास्ता खेत व खलिहान से होकर निकलता है। जिस देश में किसानों का विकास नहीं होता उस देश का विकास नहीं हो सकता। 
उन्होंने कहा कि चौ0 चरण सिंह लोकनायक और किसानों के मसीहा थे। वह किसानों का दुख दर्द जानते और समझते थे। चौ. चरण सिंह ने दीन दुखियों और उपेक्षितों तथा किसानों का दिल जीता था। देश की जनता ने उन्हें किसान के रुप में पहचाना। चौ0 चरण सिंह ही जनता के ऐसे सच्चे नेता थे जो देश के 72 प्रतिशत खेती करने वाले लोगों की समस्याओं को लेकर चिंतित रहते थे। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने चौधरी चरण सिंह की जयन्ती को किसान सम्मान दिवस के रुप में मनाया।
मुख्य कार्यक्रम उनके पैतृक गांव हापुड के नूरपुर मडैया में आयोजित हुआ, जिसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य ने भी भाग लिया। श्री मौर्य ने पूर्व प्रधानमंत्री की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए चौधरी साहब को किसानो का मसीहा बताया। श्री मौर्य ने कहा कि चौधरी चरण सिंह की नीतियों से ही किसान खुशहाल होगा और जब किसान खुशहाल हो जायेगा तो देश अपने आप तरक्की कर जायेगा। उन्होंने किसानो के सम्बन्ध में मोदी सरकार द्वारा किये जा रहे कार्यो का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने यूरिया में नीमकोटिंग करके और प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लागू कर किसानो के उत्थान के लिए बहुत अच्छा काम किया है। राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के अध्यक्ष डा0 मसूद अहमद और वरिष्ठ नेता अनिल दुबे ने पूर्व प्रधानमंत्री की जयन्ती पर प्रदेश कार्यालय में लगी उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। कार्यकर्ताओं ने उन्हें श्रआंजलि दी। 
चौधरी चरण सिंह की याद में कल चरथावल में एक सभा रखी गयी थी, जिसमें रालोद महासचिव और पूर्व सांसद जयन्त चौधरी ने उनके बारे में विस्तार से बताया। युवा लोकदल के प्रदेश अध्यक्ष रवीन्द्र पटेल के अनुसार जिला मुख्यालयों पर चौधरी चरण सिंह की याद में गोष्ठियां आयोजित की गयी। युवाओं ने उनकी नीति पर चलने का संकल्प लिया। किसानो के हित में संघर्ष करने का भी बीडा उठाया गया।